क्या बच्चो को एसी में रखना सही हैं?

क्या बच्चो को एसी में रखना सही हैं?

जब बच्चे जन्म लेते है तो उनके साथ कई ज़िम्मेदारियां भी आती हैं। बच्चे की छोटी से छोटी जरूरतो को पूरा करने के लिए माँ सभी चीजों के बारें में पहले जानने की कोशिश करती हैं। उनके मन में बच्चो को लेकर कई सवाल रहते हैं जैसे कि उन्हे कब दूध पिलाया जाए, कौन सा दूध पिलाये जाए, उनकी मालिश किस प्रकार से की जाए, कैसे सुलाया जाए, जैसे बहुत से सवाल होते हैं। इन्ही सवालो में से एक सवाल ये हैं कि क्या गर्मी के दिनों में बच्चो को एसी में रखना चाहिए?

क्या बच्चो को एसी में रखना सही हैं?

बच्चो को एसी में रखना सही हैं और सुरक्षित भी हैं क्योंकि बच्चे खास करके नवजात बच्चे, जिनके शरीर का तापमान पूरी तरह से संपन्न नहीं हो पाता हैं जिसके कारण वो गर्मी को सहन करने में असमर्थ होते हैं। उनकी त्वचा काफी संवेदनशील होती है जिसके कारण अधिक गर्मी में उनको कई परेशानियों का सामना करना पड़ता हैं जैसे कि बुखार होना, लू लगना, घमौरी होना, शरीर में पानी की मात्रा कम होना इत्यादि। इसलिए डॉक्टर भी आजकल बच्चे को एसी में रखने की सलाह देते हैं। यह भी माना जाता हैं कि बच्चे को गरम वातावरण में रखने से ज्यादा सुरक्षित ठंडी जगह पर रखना हैं। साथ ही बच्चे भी ठंडे और शांत कमरे में आराम से सोते हैं। इससे बच्चे की नींद भी पूरी होती हैं लेकिन इसके लिए आपको कुछ सावधानी भी बरतने की जरूरत हैं। ऐसा नहीं हैं कि एसी में रखने से फायदा ही मिलता हैं बल्कि अगर आपका कमरा बहुत अधिक ठंडा हो गया हैं तो ये बच्चे को नुकसान भी पहुंचा सकता हैं। जिससे बच्चे के शरीर का तापमान घटेगा आर बच्चे ठिठुरने भी लग सकते हैं। इसलिए जरूरी हैं कि एसी चलते समय आप कुछ सावधानियां बरते जिससे आपको आगे चल कर परेशानी न हो जैसे कि:

इसे भी पढ़ें: शिशु के रोने के कारण व शांत कराने के ५ असरदार उपाय

सावधानियां

#1. कमरे का तापमान सही रखे

आप जब भी एसी अपने कमरे में चलाये तो ध्यान रखे कि एसी से कमरा ज्यादा ठंडा और गरम ना रहे। एसी का तापमान 24 डिग्री या उससे ज्यादा ही रखे जिससे कमरे का तापमान सामान्य रहेगा और बच्चे अच्छे से आराम कर पाएंगे। साथ ही अपने एसी में टाइमर सेट कर दे जिससे आवश्यकता के अनुसार आप एसी का उपयोग कर सके क्योंकि बाहर की गर्मी में परिवर्तन होने पर आपके एसी के तापमान पर भी फर्क पड़ता हैं। अगर आपके एसी में टाइमर की सुविधा नहीं हो तो आप एसी थोड़े समय के लिए बंद कर दे।

#2. बच्चे को एसी के सामने न रखे

बच्चे को कभी भी एसी के सामने या उसके पास नहीं रखना चाहिए क्योंकि अगर बच्चे को एसी की सीधी हवा मिलेगी तो हो सकता हैं आपके बच्चे को नुकसान हो और उन्हे ठंड लगे और वे बीमार पड़ जाए। इसके लिए आप अपने बच्चे को पतले व खुल्ले कपड़े पहनाये और ध्यान रखे कि सब जगह पहनाये| जैसे कि पतली सी टोपी, मोजे या फिर चादर उड़ा कर रखे।

#3. एसी से गरम स्थान पर न ले जाए

जब आप कमरे में एसी चलाकर रखती हैं तो बच्चे एक सामान्य और ठंडे वातावरण में होते हैं। ऐसे में अगर बच्चे को बाहर जाना हो तो ठंडे तापमान से गरम तापमान में जाने से बच्चे बीमार पड़ सकते हैं। इसलिए जरूरी हैं कि आप बाहर जाने से थोड़ी देर पहले ही एसी बंद कर दे जिससे कमरे का तापमान सामान्य हो जाएगा और बच्चे को बाहर के तापमान से अधिक फर्क नही पड़ेगा।

इसे भी पढ़ें: बच्चों के नाक से नकसीर आने के कारण व 10 घरेलु उपाय

इन सब के अलावा आप अपने बच्चे को हमेशा मोइश्चराइजर लगा कर रखे क्योंकि एसी में बच्चे की त्वचा रूखी होने लगती है। ऐसा भी माना जाता है कि कमरे में पानी से भरा हुआ कटोरा रखने से पानी कमरे की हवा को अच्छा रखता हैं व उसे शुष्क नहीं पड़ने देता हैं। इसके अलावा अपने एसी की समय-समय पर सर्विस कराते रहिये जिससे बच्चे को स्वच्छ और ठंडी हवा मिलती रहे।

क्या आप एक माँ के रूप में अन्य माताओं से शब्दों या तस्वीरों के माध्यम से अपने अनुभव बांटना चाहती हैं? अगर हाँ, तो माताओं के संयुक्त संगठन का हिस्सा बने| यहाँ क्लिक करें और हम आपसे संपर्क करेंगे|

null