महिलाओं के वजन कम ना होने के 10 मुख्य कारण

महिलाओं के वजन कम ना होने के 10 मुख्य कारण

बदलते हुए लाइफ़स्टाइल में ज्यादातर महिलाएं किसी ना किसी स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं से घिरी हुई है जिसमें एक समस्या है मोटापा जो कि आजकल एक आम समस्या बनकर रह गई है मोटापा ज्यादा आने से महिलाओं की पूरे शरीर की शेप बिगड़ जाती है जिससे उन्हें कई बार शर्मिंदा भी होना पड़ता है और तो और उन्हें कपड़े खरीदते समय भी कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है महिलाएं अपना मोटापा कम करने के लिए सबसे पहले डाइटिंग और जिम का सहारा लेती है परंतु कई बार यह सब करने के बाद भी मोटापा है कि घटने का नाम ही नहीं लेता है मोटापा आने से सिर्फ शर्मिंदगी ही नहीं बल्कि कई अन्य बीमारियां भी साथ में आती है परंतु क्या कभी आपने सोचा है कि महिलाओं में मोटापा कम ना होने के क्या कारण (Causes of Not Losing Weight) हो सकते हैं? तो आइए जानते हैं महिलाओं में मोटापा कम ना होने के क्या-क्या कारण (vajan kam na hone ke karan) है

 

महिलाओं में मोटापा कम ना होने के कारण (Reasons for not Losing Weight in Hindi)

 

#1. गलत खान-पान (Wrong eating habits)

महिलाओं में मोटापा या फिर उनकी निकलते और फैलते हुए पेट का सबसे बड़ा कारण उनके द्वारा खाने-पीने में बरती जाने वाली लापरवाही होती है ज्यादातर महिलाएं खाने पीने की बहुत शौकीन होती है उन्हें फास्ट फूड, चटपटी चीजें या तेल वाली चीज़े बहुत पसंद आती है जिसकी वजह से उनका मोटापा कम ना होने की बजाये बढ़ता जाता है अगर आप ज्यादातर खाना बाहर का खाती है तो यह आपके वजन कम ना होने का मुख्य कारण हो सकता है

इसे भी पढ़ेंः प्रेगनेंसी के बाद कब शुरु करें व्यायाम

#2. लंबे समय तक भूखे रहना (Hungry for long time)

कई लोगों की यह सोच हैं कि लंबे समय तक भूखे रहने से मोटापे को कम किया जा सकता है परंतु ऐसा बिल्कुल नहीं है बल्कि लंबे समय तक भूखा रहने से वजन कम होने की बजाये और बढ़ जाता है ज्यादा देर तक भूखे रहने से शरीर के पाचन तंत्र की क्षमता कम हो जाती है जिसके कारण यह शरीर में मौजूद कैलोरी को नष्ट नहीं कर पाता है यही कैलोरी वजन कम करने की बजाये वजन बढ़ाने का काम करती है इसके अलावा अगर आप लंबे समय तक भूखी रहेगी तो आपको ज्यादा भूख लगेगी जिसके कारण आप जरूरत से ज्यादा खा लेती है यह भी वजन कम ना होने का एक मुख्य कारण हो सकता है इसलिए आपको थोड़े-थोड़े समय के अंतराल पर खाते रहना चाहिए

 

#3. कम पानी पीना (Drinking less water)

स्वस्थ रहने के लिए सभी को भरपूर मात्रा में पानी का सेवन अवश्य करना चाहिए वजन कम करने के लिए आपको दिन में 5 से 6 गिलास पानी अवश्य पीना चाहिए परंतु आज की आधुनिक जीवन शैली में लोग पानी पीने की बजाये कोल्ड ड्रिंक, चाय, कॉफी इत्यादि चीजों का सेवन ज्यादा करते हैं इन सभी चीजों में शुगर का स्तर काफी ज्यादा होता है जो वजन को कम नहीं होने देता है पानी में किसी तरह की कोई कैलोरी नहीं होती है और यह शरीर से अपशिष्ट पदार्थों को भी बाहर निकालने में मदद करता हैं इसलिए जिन महिलाओं में पानी पीने की आदत कम है उनको अपनी यह आदत अभी से छोड़ देनी चाहिए इसके लिए आप अपने मोबाइल में रिमाइंडर भी लगा सकती है जिससे आपको पानी पीना याद रहेगा

इसे भी पढ़ेंः प्रेगनेंसी के बाद कैसे घटाएं पेट का चर्बी

#4. लंबे समय तक बैठे रहना (Sitting for long hours)

जो महिलाये कामकाजी होती है उन्हें दफ्तर में काम करते हुए लंबे समय तक एक ही जगह पर बैठे रहना होता है जो कि मोटापे का कारण बनता है विशेषज्ञों के मुताबिक लंबे समय तक एक ही जगह पर बैठे रहने से भूख पर से भी नियंत्रण कम हो जाता है और इस वजह से आप जरूरत से ज्यादा खा लेती है घर की जिम्मेदारियों और काम के तनाव की वजह से व्यायाम भी नहीं हो पाता है या नाम मात्र का ही हो पाता है जो कि मोटापे का मुख्य कारण बनता है

 

#5. आलस (Laziness)

कुछ महिलाओं का वजन कम ना होने का कारण उनका आलसी होना भी होता हैकुछ महिलाएं आलस के कारण एक ही जगह पर बैठी रहती है जैसे कि एक ही जगह पर बैठे रह कर घंटो तक टीवी देखना इत्यादि इसलिए आपको अपने आलस को त्याग कर अपने जीवन में व्यायाम और योग को अवश्य स्थान देना चाहिए

 

#6. ज्यादा या कम नींद (Sleep disorder)

जरूरत से ज्यादा या कम नींद लेना भी इसका एक कारण हैंजो महिलाएं जिम्मेदारियों के चलते पर्याप्त नींद नहीं ले पाती है या फिर जो महिलाएं आलस के कारण ज्यादा नींद लेती है उनमें भी पेट की चर्बी बढ़ने लगती है दिन में 9 घंटे से ज्यादा सोना व 6 घंटे से कम सोना आपके स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव डालता हैं इससे भूख को नियंत्रण में रखने वाले हार्मोनस का संतुलन बिगड़ने लगता है जिसके कारण महिला को ज्यादा बहुत भूख लगने लगती है और वजन कम होने के बजाय और बढ़ जाता है इसलिए आपको एक दिन में 7 से 8 घंटे की नींद लेनी चाहिए

 

#7. ज्यादा कैलोरी का सेवन (High calorie foods)

बहुत सी महिलाएं मोटापे को कम करने के लिए व्यायाम या जिम का सहारा लेती है ऐसे करने से कैलोरी कम होने के साथ-साथ मांसपेशियां मजबूत बनती है लेकिन अगर आप व्यायाम करने के बाद ज्यादा कैलोरी वाला भोजन का सेवन करती है तो आपके द्वारा किए गए व्यायाम का कोई ज्यादा फायदा नहीं हो पाता हैं व्यायाम के बाद ज्यादा एनर्जी ड्रिंक और प्रोटीन वाले आहारों का सेवन करने से भी कैलोरी की मात्रा बढ़ती है जो मोटापा को कम करने की बजाये उसे और बढ़ा देती है

इसे भी पढ़ेंः पीरियड्स में पेट दर्द को कम करने के 5 घरेलू उपाय

#8. अल्कोहल (Alcohal)

यदि आप शराब का सेवन करती है तो इससे भी मोटापा बढ़ता है ऐसे पदार्थों का सेवन करने से शरीर की चर्बी बढ़ती है इसलिए आपको इन मादक पदार्थों से दूर रहने की आवश्यकता है

 

#9. तनाव (Depression)

आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि तनाव से मोटापा कम ना होने की बजाये और ज्यादा बढ़ता हैं ज्यादा तनाव में रहने से इंसान की भूख कम हो जाती है या फिर ज्यादा बढ़ जाती है अगर भूख कम होती है तो शरीर में कमजोरी जगह बना लेती है और अगर भूख बढ़ जाती है तो हम भूख को शांत करने के लिए जल्दबाजी में ज्यादा कैलोरी वाले भोजन कर लेते हैं इसलिए तनाव को भी मोटापा कम ना होने का एक कारण माना गया है

 

#10. दवाइयों का सेवन (Use of Medicines)

कई ऐसी दवाइयां भी होती है जिनसे बीमारी तो ठीक जाती है परंतु यह वजन को बढ़ा देती है जैसे कि थायराइड थायराइड होने से महिलाओं का वजन बढ़ने के साथ-साथ हार्मोनस भी असंतुलित हो जाते हैं ऐसी दवाइयां भी होती है जिनका सेवन करने से शरीर के आकर में बदलाव आ सकता है जिसके कारण आपको ज्यादा भूख लगती है

 

गर्भावस्था के दौरान भी महिला का वजन बढ़ जाता है यह गर्भवती महिला और उसके अजन्मे शिशु के लिए अच्छे संकेत होते हैं गर्भावस्था के बाद भी आपका वजन बढ़ने लगता हैं क्योंकि इस समय आपको ज्यादा कैलोरी वाले भोजन का सेवन करना पड़ता है जिसकी वजह से वजन कम नहीं होता है बल्कि और बढ़ने लगता है ऐसे में आपको फल सब्जियों, उच्च प्रोटीन से भरपूर चीजों का सेवन करना चाहिए महिलाओं को वजन कम ना होने के ऐसे ही छोटे-छोटे कारण होते हैं जिन्हें हम नजरअंदाज कर देते हैं जिससे वजन कम होने के बजाय और बढ़ जाता है यदि आप इन सब बातों का ध्यान रखेंगी तो आप जल्द ही इस समस्या से छुटकारा पा सकती है

इसे भी पढ़ेंः जन्म के समय बच्चें का वजन कम होने के 10 कारण

(लेखिका डॉ. रीतिका जुनेजा एक फिजियोथेरेपिस्ट (Physiotherapist) हैं और फिटनेस उद्योग में फिटनेस सलाहकार के रूप में 8 साल का अनुभव है। दिल्ली के प्रतिष्ठित जिम व फिटनेस सेंटर में सेवाएं प्रदान कर रही हैं।)

क्या आप एक माँ के रूप में अन्य माताओं से शब्दों या तस्वीरों के माध्यम से अपने अनुभव बांटना चाहती हैं? अगर हाँ, तो माताओं के संयुक्त संगठन का हिस्सा बने। यहाँ क्लिक करें और हम आपसे संपर्क करेंगे।

null

null