शिशु के आने से पहले यह 10 चीज़े पहले ही खरीद लें

शिशु के आने से पहले यह 10 चीज़े पहले ही खरीद लें

एक नन्हे मेहमान के इस दुनिया में आने के विचार से ही माँ का मन खुशी और उत्साह से भरा हुआ होता है क्योंकि शिशु न केवल माता-पिता को पूरा करता है बल्कि उनकी जिंदगी को कई रंगों से भी भर देता है। शिशु के आने से पहले ऐसी कई तैयारियाँ होती हैं जो माँ को उसके जन्म से पहले ही कर लेनी चाहिए। उन्ही में से एक है “आवश्यक खरीददारी” (Shopping Before Baby Birth)। शिशु के जन्म लेने से पहले होने वाली माँ के पास पर्याप्त समय होता है जिसमें वो बाजार जाकर आराम से जरूरी चीज़ों को खरीद सकती है लेकिन शिशु के जन्म के बाद उसके पास न तो इतना समय होता है और न ही वो अपने शिशु को अधिक देर तक किसी अन्य व्यक्ति के पास छोड़ सकती है।

ऐसी कई चीज़ें हैं जिनकी आवश्यकता शिशु के पैदा होने के तुरंत बाद पड़ती है। ऐसे में जरूरी है कि आप ऐसी चीज़ों की लिस्ट बना लें जो आपके या शिशु के लिए आवश्यक हैं और उसके बाद कर दें शॉपिंग शुरू। अगर आप पहली बार माँ बनने जा रही हैं और आपको सही से यह नहीं पता कि वो कौन-कौन सी चीज़ें हैं जिन्हें आपको पहले ही खरीद लेना चाहिए तो कोई बात नहीं। आज हम आपको ऐसी ही कुछ जरूरी दस चीज़ों के बारे में बताने जा रहे हैं जिनसे शॉपिंग (Shopping Before Baby Birth) में आपको मदद मिलेगी।

शिशु के आने से पहले यह 10 चीज़े पहले ही खरीद ले (Things to Buy Before Baby Birth in Hindi)

#1. हैंड सैनिटाइजर (Hand Sanitizer)

हैंड सैनिटाइजर का नाम सुनकर आपको जरूर लग सकता है कि भला बच्चे के जन्म के बाद यह सबसे जरूरी चीज कैसे हो गई। दरअसल नवजात शिशु को गोद में लेने से पहले हाथों को साफ रखना बहुत जरूरी होता है। नवजात शिशु को संक्रमण का खतरा सबसे अधिक होता है। ऐसे में रिश्तेदारों या घर के अन्य सदस्यों को जब भी बच्चे को गोद में दें तो पहले उनसे कहें कि हाथ साफ कर लें।

इसे भी पढ़ेंः नवजात शिशु के बारे में 10 बातें

#2. नैप्पी और डायपर (Nappie and Diaper)

नैप्पी और डायपरस होने वाले शिशु के लिए बेहद आवश्यक है। नवजात शिशु के लिए अधिकतर कपड़े वाली नैप्पी का प्रयोग किया जाता है। इसे धोकर दुबारा प्रयोग में लाया जा सकता है। शिशु की त्वचा के लिए भी यह आरामदायक होती है। इसके साथ ही नवजात शिशु के साइज के डायपर खरीदे, ताकि जब भी शिशु को कहीं ले कर जाना हो तो उनका प्रयोग किया जा सके।

 

#3. कपड़े (Clothes)

नवजात शिशु के लिए उनके साइज़ के कपड़े खरीदे हालाँकि आजकल आप ऑनलाइन भी इन्हें खरीद सकते हैं। बहुत अधिक कपड़ों की जगह कम कपडे खरीदे। उत्साह में नवजात के लिए बहुत अधिक कपड़े न खरीद लें नहीं तो बाद में यह व्यर्थ हो सकते हैं। इसके साथ ही मौसम के अनुसार कपड़ों को चुनें। सर्दी के लिए वूलन कपड़े, टोपी और जुराबे आदि खरीदना न भूले। अगर मौसम गर्मी का है तो उसके मुताबिक कपड़ों का इंतजाम कर दें। नवजात शिशु दूध बहुत अधिक निकालते हैं इसलिए उसके लिए पर्याप्त वाइप्स भी खरीद लें।

 

#4. फीडिंग बोतल और निप्पल (Feeding Bottle And Nipple)

अगर आप अपने बच्चे को अपना दूध नहीं पिला रही हैं तो आपको कम से कम 2 से 3 फीडिंग बोतल चाहिए। नवजात शिशु को दिन में कई बार दूध पिलाना पड़ता है ऐसे में बोतलों का अधिक होना आपके लिए सुविधाजनक रहेगा। आप इन्हें आराम से एक साथ उबाल कर फिर से प्रयोग में ला सकती हैं। बोतल के निप्पल को अक्सर बदलते रहना चाहिए इसलिए कुछ निप्पल्स भी खरीद लें। ध्यान रहे, अच्छी गुणवत्ता की बोतल का ही प्रयोग करें। नवजात शिशु के लिए फॉर्म्यूला मिल्क केवल डॉक्टर की सलाह पर ही लें। अगर आप स्वस्थ हैं तो कम से कम छह माह तक बच्चे को केवल स्तनपान ही कराएं।

 

#5. बेबी केयर प्रोडक्ट (Baby Care Products)

अपने शिशु के लिए खास बनाए गए साबुन, शैंपू, क्रीम, बालों का तेल, मालिश वाला तेल, पावडर, डायपर रैश क्रीम और वेट वाइप्स आदि चुने और उन्हें खरीदें। शिशु की त्वचा संवेदनशील होती है इसलिए उनकी नाजुक त्वचा पर बड़ों के उत्पाद हानिकारक साबित हो सकते हैं। बेबी केयर प्रोडेक्ट चुनते समय यह ध्यान रहे कि वो केमिकल मुक्त हों ताकि शिशु को किसी प्रकार का नुकसान न पहुंचे।

इसे भी पढ़ेंः नवजात शिशु की देखभाल कैसे करें

#6. कार सीट (Car Seat)

शिशु के लिए उपलब्ध कार सीट को हम में से अधिकतर लोग खरीदना जरूरी नहीं समझते। लेकिन इसे अपनी प्राथमिकता बना लें। हमारे देश की सड़कों को देखते हुए इसे खरीदना और भी अधिक जरूरी है। कुछ अस्पताल तो इसके बिना शिशु को घर ले जाने की अनुमति भी नहीं देते। इसे ख़रीदने के बाद इसे कैसे प्रयोग में लाया जाता है, इसके बारे में पूरी जानकारी पहले ही लें लें।

 

#7. बाथटब (Bathtub)

जन्म के बाद शिशु को नहलाने के लिए आप सामान्य टब का प्रयोग नहीं कर सकते। इसलिए पहले से ही शिशु को नहलाने के लिए खास बाथटब का इंतजाम कर लें। बाजार में अलग-अलग साइज के बाथटब उपलब्ध हैं उनमे से आप अपनी पसंद के अनुसार किसी एक को चुन सकती हैं। हालाँकि ऐसा टब चुने जो साइज में बड़ा हो ताकि आप शिशु के थोड़े बड़े होने तक इसका प्रयोग कर सके। यही नहीं आप आसानी से फोल्ड हो जाने वाले बाथटब को भी चुन सकती हैं ताकि यात्रा के दौरान आप इसका प्रयोग कर सके। शिशु के लिए दो या तीन कोमल तौलिया भी खरीदे।

 

#8. कम्बल (Blankets)

बच्चे को लपेटने के लिए कम्बल को खरीदना न भूलें। नौ महीने माँ के गर्भ में रहने के बाद शिशु को गर्म रखना बेहद जरूरी है। अगर गर्मी का मौसम है तो आप उसे नरम सूती कपड़े में भी लपेट सकती है लेकिन सर्दी के मौसम के लिए आप नरम कम्बल का इस्तेमाल करें।

इसे भी पढ़ेंः बच्चों में दस्त दूर करने के उपाय

 

#9. पैड्स (Pads)

पैड्स का होना नयी माँ के लिए प्रसव के बाद जरूरी है। प्रसव के बाद डिस्चार्ज को ठीक होने में कुछ समय लगता है ऐसे में मैक्सी पैड्स का माँ के पास होना बेहद जरूरी है। हालाँकि अस्पताल में यह उपलब्ध होते हैं लेकिन फिर भी अपनी सहूलियत के लिए कुछ पैड्स अपने पास रखें। ऐसे पैड्स चुने जो सामान्य से अधिक बड़े हों और जिनमे अधिक सोखने की क्षमता रखते हों।

 

#10. शिशु का अन्य सामान (Baby accessories)

शिशु के जन्म के बाद आपके लिए शिशु को हर समय अपने साथ रखना मुश्किल है। खासतौर पर अगर आप शिशु को अकेले संभाल रही है तो ऐसे में बाजार में कई चीज़ें उपलब्ध है जिससे आप शिशु को आसानी से कैरी कर सकती हैं। बेबी स्विंग, बाउंसर, स्ट्रोलर या परेम को खरीद कर आपकी कुछ मदद हो सकती है। यह भी अलग-अलग साइज, रंग और उद्देश्य के लिए आसानी से उपलब्ध है। इसके साथ ही अगर आप चाहे तो बच्चे का झूला या बाजार में मिलने वाला शिशु का अलग से बेड भी पहले खरीद सकती हैं ताकि शिशु आराम से सो सके।

इसे भी पढ़ेंः जन्म के बाद आखिर कैसे बदलता है बच्चे का रंग

 

क्या आप एक माँ के रूप में अन्य माताओं से शब्दों या तस्वीरों के माध्यम से अपने अनुभव बांटना चाहती हैं? अगर हाँ, तो माताओं के संयुक्त संगठन का हिस्सा बने। यहाँ क्लिक करें और हम आपसे संपर्क करेंगे।

null

null