गर्भावस्था के दौरान बालों के टूटने के कारण, बचाव व घरेलू उपाय

गर्भावस्था के दौरान बालों के टूटने के कारण, बचाव व घरेलू उपाय

माँ बनने की खुशी तो हर औरत को होती है पर इसके साथ गर्भावस्था के बाद कई प्रकार की परेशानियों का सामना भी करना पड़ता है जैसे कि खिंचाव के निशान, स्तन सूजन, थकान, मतली और बाल झड़ने की समस्या। बाल गिरने की समस्या लगभग सभी माताओ को देखनी पड़ती है। कई मां प्रसव के बाद अत्यधिक बालों के झड़ने का अनुभव करती हैं लेकिन हैरानी की बात यह हैं कि कुछ महिलाओ को गर्भावस्था के दौरान बालों के झड़ने (Hair Fall During Pregnancy) का अनुभव नहीं होता हैं। बच्चे होने के बाद आपके बाल अचानक से तेजी से गिरने लगते हैं जो कि एक सामान्य स्थिति है जिसे हर माँ को झेलना पड़ता है।

सामान्य रूप से, यानी जब आप गर्भवती नहीं होती हैं, आपके लगभग 85-95% बाल लंबे होते हैं जबकि शेष 15% आराम के चरण में होते हैं। एक बार जब आप आराम के चरण से बाहर आती है तो ब्रश या शैम्पू करने से बाल झड़ने लगते है और नए बाल आने लगते है। आमतौर पर प्रतिदिन लगभग 100 बाल झड़ना सामान्य है। लेकिन इसमे परेशान होने की कोई बात नहीं है।

महिलाओं को प्रसव के बाद बालों के गिरने का सामना क्यों करना पड़ता है? (Causes of Hair fall During Pregnancy in Hindi)

हालांकि, गर्भावस्था के दौरान (Garbhavasta ke dauran Baal Jhadna), शरीर में एस्ट्रोजन का स्तर अधिक होता है और इससे बढ़ते चरण की अवधि बढ़ जाती है। इसका मतलब है कि ज्यादातर महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान बालों के मोटे और शानदार होने का आनंद मिलता है। पर प्रसव के बाद, एस्ट्रोजेन का स्तर गिरता है और बहुत से बाल आराम करने वाले चरण में चले जाते है जिससे आप बहुत ही कम समय में बहुत अधिक बाल खो देती हैं। ये परेशानी अधिकतर लंबे बालो वाली महिलाओ में देखी जाती है।

हालांकि गर्भावस्था के दौरान कुछ बालों का झड़ने सामान्य हैं लेकिन अगर बाल ज्यादा गिरने लगे तो यह निश्चित रूप से चिंता का कारण है। ये सिर्फ एक समय होता है जब बाल गिरते है, थोड़े समय बाद ये परेशानी खत्म हो जाएगी। बस जरूरी हैं कि आप इसके कारण जाने और कुछ घरेलू उपाय अपनाए जिससे आपको इस परेशानी से जल्द ही छुटकारा मिले।

बालों के झड़ने का कारण क्या है? (Reason for Hair Fall During Pregnancy)

कई कारणों से बालों का झड़ना हो सकता है। गर्भवती महिला के शरीर में बहुत सारे बदलाव होते है जिसके कारण बाल झड़ने की परेशानी होती है, आइये जानते हैं:

#1. हार्मोनल परिवर्तन

गर्भावस्था के दौरान बहुत से हार्मोनल परिवर्तन होते है। आपके शरीर में एस्ट्रोजेन का स्तर बढ़ता हैं और वे बाल विकास की सुविधा देते हैं, लेकिन जब आपके शरीर का हार्मोनल असंतुलन होने लगता हैं तो आपके बालों में इसका असर पड़ने लगता है।

#2. आनुवांशिक कारक

आपके बालों के गिरने की समस्या आनुवांशिकी पर भी निर्भर करती हैं क्योंकि अगर आपकी मां ने गर्भावस्था के दौरान या बाद में बालों के झड़ने का अनुभव किया हैं तो आप भी इसका अनुभव कर सकती है।

#3. दवाएं

गर्भावस्था-के-दौरान-बालों-के-टूटने-के-कारण-व-घरेलु-उपाय

चित्र स्रोत: hellosehat.com

गर्भावस्था के दौरान कुछ दवाएं भी दी जाती हैं जैसे कि एंटी-डिप्रेसेंट दवाएं जो आपके रक्तचाप के स्तर को नियंत्रित करने के लिए दी जाती है जिससे कुछ साइड इफेक्ट हो सकते है।

#4. जन्म नियंत्रण की गोलियों के कारण

ज्यादातर महिलाएं जन्म नियंत्रण दवाइयों का उपयोग करती हैं पर इसके कुछ साइड-इफेक्ट देखने को मिलते हैं। इसमें दो प्रकार की गोलियां होती हैं- पहली प्रोजेस्टेरोन गोली और संयोजन की गोलियां, जिसमें प्रोजेस्टेरोन और एस्ट्रोजन दोनों होते हैं ये गर्भनिरोधक गोलियां आपके बालों को बहुत जल्दी आराम करने के चरण में ले जाती हैं और इससे बालों के अत्यधिक झड़ना शुरू हो जाते हैं जिन्हें telogen effluvim कहा जाता है।

#5. बीमारी

यदि आप अपनी गर्भावस्था के दौरान मधुमेह से पीड़ित हैं, जिसे गर्भावधि मधुमेह या ringworm कहा जाता है, तो आपके बालों के झड़ने की संभावना भी बन सकती हैं।

#6. एनीमिया

गर्भावस्था के दौरान शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं की मात्रा में कमी से बाल गिरने की परेशानी होती है। गर्भावस्था के दौरान आयरन की कमी बहुत आम है और बाल गिरने की समस्या गर्भावस्था के दौरान होने लगती है।

#7. हाइपोथायराइडिस्म

गर्भावस्था के दौरान यदि थायरॉयड ग्रंथि निष्क्रिय हो जाती है तो इसे हाइपोथायरायडिज्म कहा जाता है और अगर यह होता है, तो यह शरीर के हार्मोनल संतुलन के साथ बहुत परेशानी का सामना करना पड़ता है। यह बालों के झड़ने के प्रमुख कारणों में से एक है।

#8. विटामिन बी 12 या फोलिक एसिड की कमी

विटामिन बी 12 बाल के लिए बहुत महत्वपूर्ण है और यह बालो के विकास को बढ़ाने में मदद करता है। विटामिन बी 12 की कमी के कारण बालो का विकास धीमा हो जाता है। फोलिक एसिड या विटामिन बी 12 गर्भावस्था के दौरान होने वाले सेल के विकास, दिमाग के विकास के लिए बहुत जरूरी है। इसकी कमी से भी बालों के गिरने की समस्या हो सकती है।

इसे भी पढ़ें: रमजान में प्रेग्नेंट महिला को क्या-क्या सावधानियां बरतनी चाहिए

बाल झड़ने से बचाव (Treatment for Hair Fall During Pregnancy in Hindi)

गर्भावस्था के बाद आपके शरीर में कई तरह के बदलाव होते है जिसके कारण बाल भी झड़ने लगते है। इस परेशानी से बचने के लिए जरूर हैं कि कुछ जरूरी तरीके अपनाए जिससे बाल झड़ने की परेशानी ख़त्म हो सके।

#1. तनाव को दूर करे

गर्भावस्था के बाद कई प्रकार के बदलाव होते है जैसे कि तनाव होना। जिसे डॉक्टर postpartum telogen effluvium कहते है। ये एक आम समस्या हैं इसलिए जरूरी है कि आप तनाव से बचे और अपने बालो को झड़ने से रोके क्योंकि अगर आप तनाव लेंगी तो अवश्य ही आपके बाल और ज्यादा झड़ेगे।

#2. पोष्टिक आहार ले

आमतौर पर ही अगर आप अच्छे और स्वस्थ आहार लेंगी तो आप महसूस करेगी की आपके बाल और त्वचा काफी खूबसूरत हो जाती है। गर्भावस्था के बाद हमारा शरीर काफी कमजोर हो जाता है जिसके कारण बाल झड़ने लगते है। इसलिये जरूरी है कि आप अपने आहार में सब्जियों और नट्स को शामिल करे।

#3. सप्प्लिमेंट्स ले

गर्भावस्था के बाद हमारा शरीर बहुत कमजोर हो जाता हैं और कभी-कभी जो हम खाते है वो हमारे शरीर के लिए काफी नहीं होता हैं जिससे हमारे बालो का झड़ना या अन्य परेशानी शुरू हो जाती है। इसलिए जरूरी हैं कि हम विटामिन बी, जिंक, बायोटिन सप्प्लिमेंट ले।

#4. बालों में केमिकल्स फ्री शैम्पू का प्रयोग देखकर करे

हमे हमेशा बालों के लिए प्राकृतिक एवं हर्बल शैम्पू का प्रयोग करना चाहिए जिसमे किसी भी प्रकार का हानिकारक केमिकल्स न हो जिससे हमारे बाल टूटेगे नहीं। केमिकल युक्त शैम्पू से हमारे बाल कमजोर होने लगते है जिससे वो जल्द टूटने लगते है। अपने बालों पर बहुत अधिक हैयर स्टाइल या हिटिंग न करे जिससे आपके बाल कमजोर हो।

#5.  ज्यादा कंघी ना करे

बालों में ज्यादा कंघी करने से बालों का झड़ना बढ़ जाता है। इसलिए जब भी आप बाल धोये तो गीले बालों में ब्रश करने के लिए मोटे दातो वाले ब्रश का ही प्रयोग करे।

#6. बालों को छोटा करवाले

गर्भावस्था के बाद बच्चे के पीछे हम इतने व्यस्त हो जाते हैं कि हम अपने लंबे बालों की देखभाल नहीं कर पाते जिससे बाल कमजोर और खराब होने लगते है। इसलिए जरूरी है आप अपने बालों को छोटा करवाले। छोटे बाल बड़े बाल की तुलना में कम कमजोर और झड़ते है।

इसे भी पढ़ें: क्या प्रेगनेंसी में पसीना आना सामान्य हैं?

#7. मसाज करे

गर्भावस्था-के-दौरान-बालों-के-टूटने-के-कारण-व-घरेलु-उपाय

चित्र स्रोत: Saludteu

मसाज करने से बालों के स्कल्प का रक्त संचार तेजी से होता है और ये हमारे बालों में मजबूती लाता है इसलिए जरूरी है कि आप अच्छे तेल का इस्तेमाल करे जिससे आपके बालों का झड़ना कम हो जाए। इसके लिए आप essential तेल का प्रयोग कर सकती है। रोज 5 से 10 मिनट के लिए अपने बालों की अच्छे से मसाज करे।

बालों के झड़ने को कम करने के लिए घरेलू उपचार (Home Remedies for Hair Fall During Pregnancy in Hindi)

गर्भावस्था के बाद जरूरी है कि उपरोक्त तरीकों के अलावा, आप अपने बाल चमकदार और मजबूत बनाने के लिए कुछ घरेलू उपाय भी करे। जिससे आपको कोई दुष्प्रभाव नहीं होगा व साथ ही आपके बाल अच्छे हो जायेंगे।

#1. अंडे की सफेदी

अंडा हमारे बालों के लिए बहुत अच्छा होता है इसलिए एक अंडे की सफेदी में जैतून का तेल मिलकर पैक बना ले और इसे अपने बालों पर आधे घंटे के लिए लगाकर छोड़ दे। फिर इसे गुनगुने पानी से धो ले। इससे आपके बाल मजबूत और चमकदार बनेगे।

#2. मेथी दाना

मेथी के दानो को रात भर पानी में भिगोये। अगले दिन सुबह इस पानी को छानकर 1 से 2 घंटे के लिए अपने बालो पर लगाए, फिर धो ले। मेथी हमारे बालों को डेंड्रफ और कमजोर होने से बचाती हैं। ज्यादा अच्छा परिणाम देखने के लिए आप इस प्रक्रिया को हफ्ते में दो से तीन बार भी दोहरा सकती है।

#3. दही

गर्भावस्था-के-दौरान-बालों-के-टूटने-के-कारण-व-घरेलु-उपाय

चित्र स्रोत: OneDayCart.com

दही को बालों के लिए एक कंडीशनर माना जाता है। दही बालों को गिरने से रोकने में एक अच्छे टॉनिक की तरह काम करती है इसलिए आप अपने बालों पर दही के पेस्ट को 10 मिनट के लिए लगाए और धो ले। इससे आपके बाल सुंदर और चमकदार बनेगे और बाल झड़ने की परेशानी भी कम हो जाएगी।

#4. आंवला

बालों के पोषण के लिए लोग आंवले का प्रयोग कई सालो से कर रहे है। आंवला एक शक्तिशाली टॉनिक है जो आप बालों में लगाने वाले तेल में डालकर गरम करके व इसे छानकर प्रयोग कर सकती है। इससे आपके बाल काले, सुंदर और चमकदार बनेगे।

#5. नारियल

गर्भावस्था-के-दौरान-बालों-के-टूटने-के-कारण-व-घरेलु-उपाय

चित्र स्रोत: oblepiha.com

बालो के झड़ने (Balon ke Jhadne) को रोकने के लिए आप कई तरह से नारियल का प्रयोग कर सकती है। नारियल के दूध को सर पर लगाने से बालों का गिरना कम किया जा सकता है। इसके अलावा आप नारियल के कठोर हिस्से को सूखा कर फिर जलाकर, इसकी रांख को अपने तेल में मिलाकर सर की मालिश करे।

#6. सूखे मेवे और अलसी के बीज

आप अपने आहार में नियमित रूप से अलसी का प्रयोग करे क्योंकि इसमे ओमेगा 3 और वसा भरपूर मात्रा में होते है जो हमारे बालों के लिए अच्छा है। सूखे मेवो का भी आप अधिक से अधिक सेवन करे और साथ ही पानी का भी जिससे आपके बाल अच्छे हो जायेंगे।

#7. भृंगराज

यदि संभव हो तो रोज भृंगराज की ताजी पत्तियों को सुखाकर फिर पीस कर इसे शहद के साथ या दूध के साथ 2 से 3 ग्राम दिन में दो या तीन बार ले। इसका पेस्ट बनाकर भी आप अपने बालों पर लगा सकती है। अगर आपके पास ताज़ा न हो तो आप बाज़ार से इसका पाउडर या गोलियां भी ले सकती है। इससे बाल मजबूत होते है।

#8. नीम

नीम को बहुत ही पुराना और आयुर्वेदिक औषधि माना जाता हैं जो बालों को टूटने से बचाता है। इसमे एंटीबैक्टीरियल गुण होते है जो बालों की गंदगी और डेंड्रफ को दूर कर बालों को स्वस्थ बनाता है। नीम की पत्ती को पीस कर इसका पेस्ट बना ले और अपने बालो पर लगाए। कुछ देर बाद इसे धो ले। आपके बाल सही हो जायेंगे।

इसे भी पढ़ें: सयुंक्त व एकल परिवार में बच्चों के रहने के फायदे व नुकसान

इन सब घरेलू उपाय (Baal Jhadne ke Gharelu Upay) को अपनाने से आपके बालो की समस्या तो दूर होंगी ही साथ ही आपके स्वास्थ्य को भी लाभ मिलेगा क्योंकि इसके कोई दुष्प्रभाव नहीं है। आप निश्चिंत होकर इन उपायो का प्रयोग करे और अपने बालो को अच्छा बनाए और हमेशा अपने डॉक्टर से संपर्क बनाए रखे।

क्या आप एक माँ के रूप में अन्य माताओं से शब्दों या तस्वीरों के माध्यम से अपने अनुभव बांटना चाहती हैं? अगर हाँ, तो माताओं के संयुक्त संगठन का हिस्सा बने| यहाँ क्लिक करें और हम आपसे संपर्क करेंगे|

null