डिलीवरी के बाद पेट की चर्बी घटाने के 10 उपाय

डिलीवरी के बाद पेट की चर्बी घटाने के 10 उपाय

माँ बनना तो बहुत ही खुशी की बात होती है पर बच्चा होने के बाद जो मोटापा हमारे शरीर में रह जाता है, उसे कम करना बहुत जरूरी होता है। पर क्या ये इतना आसान है कि आप पहले जैसी रहे या पेट की चर्बी पहले की तरह हो जाए। क्या आपको पहले के कपड़े अच्छे से आएगे? ये सवाल हर महिला के मन में होता हैं कि क्या प्रसव के बाद पेट की चर्बी घटेगी या नहीं? जी हाँ, पेट की चर्बी घटाना मुश्किल है पर नामुमकिन नहीं। अगर हम सही से अपने खान पान को सुधारे और रोज व्यायाम करे तो ये इतना भी मुश्किल नहीं। कमर के चारों ओर लटकने वाली त्वचा एक महिला में बहुत ही गंदी दिखती है और जो कुछ भी वो पहनती हैं वह बहुत खराब फिटिंग देती है। यह चिंता काफी सामान्य है लेकिन वजन कम करने के लिए डाइटिंग नहीं करनी चाहिए क्योंकि यह आपके शरीर में पोषक तत्वों की कमी कर सकती है। जिससे आपके बच्चे को भी ठीक से पोषक तत्व नहीं मिलता है जो आपके बच्चे के स्वास्थ के लिए सही नहीं होता। गर्भावस्था के वक्त वजन बढ़ना एक आम समस्या है और इसे समय से पहले ठीक करना भी बहुत जरूरी है क्योंकि वजन बढ़ने पर कई बीमारिया भी हमारे आसपास आने लगती है जैसे की हाइ बीपी, थाइराइड, डाईबीटीज़ इत्यादि । जिससे हर औरत को चिंता होती है की वो कब अपने पहले वाले आकार में आए। इसके लिए हमे कुछ उपाय अपनाने होंगे जो की प्रसव के बाद पेट की चर्बी घटाने में काम आए। इसे भी पढ़ें: गर्भावस्था के दौरान बालों के टूटने के कारण, बचाव व घरेलु उपाय

प्रसव के बाद पेट की चर्बी घटाने के 10 उपाय

#1. स्तनपान

यह सुनकर आर्श्चय जरूर होगा की स्तनपान कराने से पेट की चर्बी कैसे कम होंगी? लेकिन ये सच है स्तनपान वास्तव में पेट में वसा को कम करने में मदद करता है। चिकित्सको का मानना है की स्तनपान से प्रतिदिन लगभग 500 कैलोरी आपके शरीर से कम करने में मदद करता है और यह बहुत है पेट की चर्बी घटाने के लिए। आपके बच्चे के लिए भी स्तनपान बहुत आवश्यक है तो ज्यादा सोचे न बस अपने बच्चे को स्तनपान कराए। आप एक वर्ष या 2 वर्ष तक स्तनपान जारी रख सकती हैं। इसके कोई नुकसान नहीं है। बस ध्यान रखे की आप कोई ऐसी चीज़े न खा रही हो या पी रही हो जिससे आपके बच्चे को नुकसान पहुंचे।

#2. थोड़े थोड़े समय के अंतराल पर भोजन करे

हमारे देश में लगभग सभी परिवारों में एक दिन में तीन बार खाना खाने का समय होता है जो की एक रिवाज के जैसे होता है, जैसे की नाश्ता, लंच और डिनर। एक बार में पेट भर कर खाने से अच्छा है आप 5 से 6 छोटे छोटे समय पर खाना खाए। इससे आपके पेट की चर्बी घटाने में मदद भी मिलेगी और आपके बच्चे को भी पोषक तत्व मिलता रहेगा और आपका बच्चा भी भूखा नहीं रहेगा।

#3. व्यायाम

प्रसव के बाद जब आपके टांके ठीक हो जाए तो आपको नियमित व्यायाम शुरू कर देना चाहिए। जिन महिलाओं के सी-सेक्शन है, वे 6 से 7 सप्ताह के बाद व्यायाम शुरू कर सकती हैं। जिम में जाना सबसे आसान उपाय हो सकता है लेकिन अगर आप जिम को बीच में छोड़ देती है तो वापस से आपका वजन बढ्ने लगता है इसलिए चलना, साइकिल चलाना, तैराकी और योगा एक बेहतर विकल्प हैं। सुबह में व्यायाम या योगा करने से आपके शरीर को टोन करने में मदद करता है और चमकदार भी बनाता है। आपके मन को भी अच्छा करता है। इसलिए पेट की चर्बी घटाने के लिए आप योगा करे। यहां कुछ योगा के अभ्यास हैं जो आप प्रसव के 6 से 7 सप्ताह के बाद शुरू कर सकती हैं, जैसे कि:
  • नौकासन
डिलीवरी के बाद खिंचाव के निशान हटाने के 10 घरेलु नुस्खे चित्र स्रोत: Lifestyle Tips in Hindi एक आसन बिछाकर सबसे पहले सीधे पीठ के बल लेट जाइए । दोनों पैरों को मिलाते हुए उपर उठाये और हाथ को हथेली के बल सीधे जमीन की तरफ ही रखे। अब धीरे-धीरे कमर से ऊपर के हिस्से के साथ-साथ हाथों को भी ऊपर उठाये, सिर्फ आपके नितंभ ही जमीन पर होने चाहिए और बांकी का हिस्सा ऊपर होना चाहिए। इसे भी पढ़ें: पीरियड्स के दर्द को कम करने के 5 असरदार उपाय
  • पश्चिमोतानासन
डिलीवरी के बाद खिंचाव के निशान हटाने के 10 घरेलु नुस्खे चित्र स्रोत: Yoga Poses आसन बिछाकर बैठ जाइये, दोनों पैरों को सीधा कर ले और कमर भी सीधी रखे। इस अवस्था में आपके दोनों पैरों के पंजे और एडी एक दुसरे से जुड़े होने चाहिए। अब फेफड़ों में सांस भरते हुए दोनों हाथों को साइड में फैलाते हुए ऊपर ले जाये। इसके बाद कमर को मोड़ते हुए दोनों हाथों को सीधे ही आगे ले आये व हाथों से दोनों पैरों की एडी को पकडे । इस अवस्था में अपने सिर को दोनों घुटनों से लगाने का प्रयास करें । घुटनों मोड़े नहीं, शुरू में ऐसा करना थोडा मुश्किल होता है इसलिए आप थोड़े घुटने मोड़ सकती है। बाद में अभ्यास होने पर इस आसन को बिना घुटने मोड़े ही करना अधिक लाभप्रद है। इस अवस्था में 20 से 30 सेकंड्स रुकने का प्रयास करें। अब धीरे-धीरे वापस अपनी कमर को सीधी करें और साथ ही हाथों को भी उपर ले जाये। और अंत में हाथों को नीचे ले आये।
  • बालासन
डिलीवरी के बाद खिंचाव के निशान हटाने के 10 घरेलु नुस्खे चित्र स्रोत: MYNEWSHUB आसन बिछाकर वज्रासन स्थिति में बैठ जाये। इस स्थिति में दोनों घुटनों को मोड़कर पैरों की एडी को अपने कूल्हों के नीचे ले आये। अपने कूल्हों का सारा वजन पैरों की एडी वाले स्थान पर आना चाहिए। पैरों के पंजो को भी सीधा कर ले। अब कमर और सिर को नीचे जमीन पर आगे की तरफ झुका दे व सिर को जमीन से स्पर्श कराये। हाथों को सामने की तरफ सीधा कर ले। और अब दोनों हाथों को धीरे-धीरे अपने पीछे ले जाये। इस अवस्था में आप 2 से 3 मिनट तक रुके फिर वापस आ जाये।
  • भुजंगासन
डिलीवरी के बाद खिंचाव के निशान हटाने के 10 घरेलु नुस्खे चित्र स्रोत: Zee News पहले पेट के बल सीधा लेट जाएं और दोनों हाथों को माथे के नीचे टिकाएं। दोनों पैरों के पंजों को साथ रखें। अब माथे को सामने की ओर उठाएं और दोनों बाजुओं को कंधों के समानांतर रखें जिससे शरीर का भार बाजुओं पर पड़े। अब शरीर के अग्रभाग को बाजुओं के सहारे उठाएं। शरीर को स्ट्रेच करें और लंबी सांस लें। कुछ सेकंड इसी अवस्था में रहने के बाद वापस पेट के बल लेट जाएं। इसे भी पढ़ें: क्या बच्चों की आँखों में काजल लगाना ठीक हैं?

#4. बाहर के खानपान या प्रोसेड या जंक फूड से बचे

एक स्वस्थ और संतुलित आहार खाएं और जंक और प्रोसेड भोजन खाने से बचें क्योंकि ये शरीर का केवल कैलोरी बढ़ाता हैं। सफेद ब्रैड की जगह पूरी गेहूं की रोटी का उपयोग करें। बर्गर, सैंडविच और अन्य बेकरी उत्पादों को न अपनाए। ये खानपान में बिलकुल पोषक नहीं हैं| अगर आपको कुछ चबाने के लिए चाहिए तो आप विभिन्न प्रकार के बीज और मेवे मिश्रण, सलाद, जूस, सब्ज़ियाँ ले सकती हैं। जो आपको स्वस्थ एवं पोशक तत्व प्रदान करेगा।

#5. पर्याप्त पानी पीना

जब भी आपको प्यास लगती हैं तब आप पानी ज्यादा पिये और यह देख ले की आपका शरीर हाइड्रेटेड हो गया है न। पानी न केवल आपके शरीर से सभी विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करता है, यह आपको पेट भरा हुआ महसूस कराता है ताकि आप अनावश्यक चिजे न खाये। अगर हो सके तो हमेशा पानी की एक बोतल आप अपने पास रखे और अगर संभव हो तो, गर्म पानी पीने की कोशिश करें। यह शरीर की चयापचय यानि मेटाबोलिस्म को बढ़ाने में मदद करता है। बस आपको इतना ध्यान रखना है की कभी भोजन करे उससे आधे घंटे पहले पानी पिये जिससे आपको भूख कम लगेगी और आप भोजन कम करेगे। और सुबह खाली पेट गरम पानी अवश्य पिये और रात को सोने से पहले भी पानी पीना चाहिए वो भी गरम पानी।

#6. चीनी की मात्रा कम करे

अपने रोज के खान पान में चीनी कम करे। जितना हो सके उतनी चीनी से बनी चीजो को कम पिये या खाये जैसे की कैंडीज, मिठाई, चॉकलेट और कुकीज़, कोलड्रिंक, स्क्वाश और अन्य शक्कर पेय से दूर रहें। इसके बजाय, किशमिश या खजूर खाये क्योंकि ये प्राकृतिक चीनी हैं जो कोई नुकसान नहीं करती और स्वास्थ के लिए अच्छा भी होता है। जब आप कुछ पीना चाहती हैं, तो सबसे अच्छा पानी पीना है, क्योंकि कुछ भी पानी की तुलना में आपकी प्यास को बुझाने में मदद नहीं कर सकता।

#7. प्रसव के बाद मालिश

एक बार आपके टाँके काफी सही हो जाए, उसके बाद आप अपनी मालिश करा सकती है वो भी पेट की। आप अपने पेट को मालिश करने के लिए अपनी जापा वाली को बुलाकर रोज मालिश कराये। ये मालिश पेट की चर्बी को कम करने में बहुत मदद करती है। यह शरीर के चयापचय यानि मेटाबोलिस्म को बढ़ाता है और त्वचा को हाइड्रेट करता है और साथ ही आपकी त्वचा को सख्त बनाता है।

#8. पेट पर बांधे बेली बेल्ट

प्रसव के बाद पेट को बेल्ट से बांधना बहुत ही जरूरी है जिससे आपके पेट पर दबाब पड़ता है और पेट कम करने में सहायता मिलती है। ये बेल्ट आपके टम्मी को और बाहर आने से रोकता है। बाजार में कई प्रकार के बेल्ट उपलब्ध हैं और वे आपकी पीठ को बहुत आवश्यक सहायता प्रदान करते हैं। वे गर्भाशय (उटेरूस) को आकार में वापस लाने और अपके पेट को कम करने में मदद करते हैं।

#9. तनाव से बचें

प्रसव के बाद बच्चे होने की नयी जिम्मेदारिया आपके सर पर आती है जिससे आपको बहुत सी चिंता, डर और तनाव होने लगता है, इससे बचने की कोशिश करनी चाहिए। क्योंकि यह अपने साथ भूख, थकानऔर वजन बढाता है। इसके लिए आपको तनाव से बचने की जरूरत है और साथ ही आपको खुश एवं पर्याप्त नींद लेने की जरूरत है जिससे आप तनाव मुक्त तो रहेगी साथ ही आप अपने शरीर में जमी कैलोरी को बर्न भी करेगी।

#10. अपने रोज की दिनचर्या निर्धारित करे

आपके लिए बहुत जरूरी है कि आप अपने खुद की दिनचर्या बनाए जिसमे आप सुबह से लेकर रात तक क्या-क्या करना चाहिए जिससे आप अपनी पेट की चर्बी को कम कर सके। लेकिन इस बात का ध्यान रखे की आप जो भी दिनचर्या निर्धारित कर रही है वो आपके लिए उचित भी हो। ऐसी कोई भी दिनचर्या न बनाए जिससे आपको निराशा मिले और आप अपने वजन को कम करने में भटके न। वजन कम करने के लिए आपको बहुत मेहनत की आवश्यकता होती है और साथ ही अपनी डाइट को, अपने सोने उठने के समय को ठीक करने की आवश्यकता है। इस दिनचर्या में आप अपनी सारी गतिविधियों को सेट कर सकती है जिससे जब आपका बच्चा सोये या खेल कर रहा हो तो आप अपने लिए थोड़ा वक्त निकालकर व्यायाम, नींद और दैनिक काम कर सके ताकि आप अपने वजन और पेट की चर्बी घटाकर सही आकार में आ जाए। इसके लिए हो सके तो आप अपने चिकित्सक से भी मिल सकती है ताकि वो आपको आपकी दिनचर्या बनाने में मदद कर सके। क्या आप एक माँ के रूप में अन्य माताओं से शब्दों या तस्वीरों के माध्यम से अपने अनुभव बांटना चाहती हैं? अगर हाँ, तो माताओं के संयुक्त संगठन का हिस्सा बने| यहाँ क्लिक करें और हम आपसे संपर्क करेंगे|

null

null