बच्चों के पेट में इन्फेक्शन होने पर 10 घरेलू उपाय

बच्चों के पेट में इन्फेक्शन होने पर 10 घरेलू उपाय

ऐसे बच्चे जो खाना खाने के मामले में लापरवाही करते हैं या फिर बाहर का जंक फूड ज्यादा खाते हैं तो पेट में इन्फेक्शन होने का खतरा होता है। इसके अलावा दूषित पानी पीने से, खाना अधपका होने से या फिर बासी खाना खाने से भी बच्चों के पेट में इन्फेक्शन (Kids Stomach Infection) होने की संभावना बहुत होती है। इसके अलावा बरसात का मौसम आने से चारों ओर का वातावरण और भी प्रदूषित होने लगता है जिससे बच्चों के पेट में इन्फेक्शन (bacho ke pet me infection) बहुत जल्दी फैलता है। कई बार खुला यानी बिना ढका हुआ भोजन खाने से भी बच्चों के पेट में बैक्टीरिया पहुंच जाती है और पेट से संबंधित समस्याएं जन्म लेती है।

 

पेट में इन्फेक्शन होने के लक्षण (Symptoms of Stomach Infection)

  • पेट में मरोड़ उठना
  • मितली या उल्टी होना।
  • खट्टी डकारे आना या एसिडिटी होना
  • शौच में खून आना

Read: Hindi Tips to Cure Fever in Kids

 

बच्चों के पेट में इन्फेक्शन को दूर करने के घरेलू उपाय (Home remedies for Kids Stomach Infection in Hindi)

#1. हल्दी

हल्दी रसोई में मसाले के साथ एक गुणकारी औषधि भी है। यह औषधि का खजाना है। इसमें पाए जाने वाले एंटीबायोटिक गुण सेहत को स्वस्थ रखने के साथ-साथ सौंदर्य के लिए भी फायदेमंद माने जाते हैं। यह पेट में होने वाले इन्फेक्शन को दूर करने का सबसे अच्छा प्राकृतिक उपचार माना जाता है। बच्चे के पेट में इन्फेक्शन को दूर करने के लिए एक चम्मच हल्दी के पाउडर में छह छोटे चम्मच शहद मिलाकर एक हवा बंद डिब्बे में बंद करके सुरक्षित रख दीजिए। फिर उसे रोजाना दिन में दो बार आधा-आधा चम्मच अपने बच्चे को खिलाये। इससे पेट से जुड़ी सभी समस्याओं से निजात पाए।

#2. खसखस

खसखस शरीर के लिए ठंडी रहती है। अगर पेट में गर्मी की वजह से कोई समस्या हो तो दिन में दो बार खसखस के दानों को पीसकर अपने बच्चे को खिलाये या फिर खसखस को पीसकर दूध में मिलाकर पिलाये। यह तुरंत पेट की गर्मी दूर करती है और साथ के साथ इसके पीने से पाचन तंत्र भी सही रहता है।

#3. हींग

हींग भी एक बहुत गुणकारी औषधी होती है। यह पेट में गैस बनने से लेकर पेट में कीड़े होने और कब्ज तक ठीक करती है। इन सब समस्याओं के लिए हींग बहुत असरदार होती है। इसलिए बच्चों को खाली पेट में थोड़ी सी हींग का सेवन नियमित रूप से करें। यह हर तरह के पेट के रोगों से मुक्ति दिलाने में आपकी मदद करेगा। पर याद रखें कि हींग बहुत ही कम मात्रा में हो और अगर बच्चे को दे रहे हैं तो हींग को पीसकर उसमें शहद या गुड मिलाकर दें।

#4. शहद

अगर शहद का उपयोग दालचीनी के पाउडर के साथ मिलाकर किया जाए तो यह पेट के इंफेक्शन से जुड़ी हर समस्या से मुक्ति दिलाने में बहुत कारगर माना गया है। बरसात के मौसम में अक्सर बच्चों के पेट में इन्फेक्शन (Kids Stomach Infection) हो जाता है। इस मौसम में अगर आप भी परेशान हैं तो आधा चम्मच दालचीनी पाउडर में एक चम्मच शहद मिलाकर दें।

Also Read: Home Remedies for Kid’s Running Nose in Hindi

#5. केला

केले में आयरन और पोटेशियम होता हैं। साथ ही इसमें पौष्टिक गुण होते हैं जो पेट में होने वाले इन्फेक्शन को दूर करता है। केला खाने से खाना भी आसानी से पच जाता है और बच्चों को गैस या कब्ज की समस्या नहीं होती है। इसलिए इसका सेवन भी नियमित रूप से बच्चों को करवाना चाहिए।

#6. लौंग

लौंग को वैसे तो गर्म माना जाता है, परंतु अगर इसे पेट में इन्फेक्शन के दौरान खाया जाए तो यह बाहरी बैक्टीरिया को खत्म करता है। यह शरीर को रोगों से दूर करती है। आप बच्चे को लौंग का तेल चम्मच से भी पिला सकती हैं। इसके अलावा अगर बच्चा लौंग की चाय बनाकर भी दे सकते हैं।

#7. लहसून

लहसुन में एंटीबैक्टीरियल तत्व पाए जाते हैं। यह पाचन क्रिया को स्वस्थ रखता है। इसका उपयोग करने से पेट के इंफेक्शन से बचाव रहता है। आप बच्चे को साबुत लहसुन खिला सकती हैं या फिर एक कप पानी में लहसुन, नमक, बटर आदि डालकर उबाल लें और फिर बच्चे को पिला दें।

इसे भी पढ़ें: बच्चो में 5 तरह की एलर्जी व उनको कैसे पहचाने?

#8. पानी व शहद

एक गर्म पानी का गिलास और उसमें एक चम्मच शहद मिलाकर पिलाने से भी आपके बच्चे का पाचन तंत्र ठीक रहता है। शहद पेट को ठंडा रखता है।

#9. चावल का पानी

चावल के पानी की उपयोगिता हर कोई नहीं जानता परंतु चावल का पानी पेट को सही रखने का सबसे आसान प्राकृतिक उपचार माना जाता है। इसकी तासीर ठंडी होती है जो पेट की कई समस्याओं को खत्म करता है। आप बच्चे को हल्का नमक डालकर चावल का पानी दे सकती हैं। और अगर इसे सुबह खाली पेट दें तो यह और भी बेहतर है।

#10. अदरक

बच्चे के पेट में अगर लगातार समस्याएं या इन्फेक्शन (Kids Stomach Infection) हो तो उसे अदरक के एक छोटे से टुकड़े के साथ थोड़ा सा सेंधा नमक और कालीमिर्च लगाकर बच्चे को खिला दीजिएं। इसके बाद बच्चे को कम से कम एक गिलास पानी पिलाइएं। इससे पेट का इन्फेक्शन आसानी से समाप्त हो जाता है।

 

अगर बच्चों के पेट में इन्फेक्शन के घरेलू उपाय (pet me infection ke gharelu upay) अपनाने के बाद भी आराम ना मिलें तो डॉक्टर से अवश्य सलाह लेनी चाहिए। कई बार यह डायरिया या टायफाइड का भी कारण हो सकता है।

क्या आप एक माँ के रूप में अन्य माताओं से शब्दों या तस्वीरों के माध्यम से अपने अनुभव बांटना चाहती हैं? अगर हाँ, तो माताओं के संयुक्त संगठन का हिस्सा बने| यहाँ क्लिक करें और हम आपसे संपर्क करेंगे|

null