गर्भावस्था में सिर दर्द होने के कारण और उपाय

गर्भावस्था में सिर दर्द होने के कारण और उपाय

प्रेगनेंसी में सिरदर्द एक बुरे सपने की तरह होता है। सामान्य दिनों में ही सिर दर्द काफी परेशान कर देता है लेकिन जब यह गर्भावस्था के दौरान होता है तो असहनीय हो जाता है। लेकिन पहली तिमाही के दौरान सरदर्द होना आम बात है। पर गर्भावस्था के दौरान सिर का दर्द कुछ घरेलू उपायों (Home Remedies For Headache During Pregnancy in Hindi) से आसानी से समाप्त हो सकता है। आमतौर पर यह दर्द की दवा लेने से भी सही हो सकता है लेकिन गर्भावस्था के दौरान आपको अधिक दवाइयां लेने की आजादी नहीं होती है।

गर्भावस्था में सिर दर्द होने के कारण (Causes of Headache During Pregnancy in Hindi)

आपके शरीर में होने वाले हार्मोनल बदलावों के कारण गर्भावस्था के दौरान सिर दर्द होता है। पहली तिमाही के दौरान ज्यादा सिर दर्द होता है लेकिन अगली तिमाही में हार्मोन संतुलित होने पर दर्द कम हो जाता है। सिर दर्द न केवल हार्मोनल गतिविधि बल्कि अन्य विभिन्न कारणों से भी होता है। आइयें जानें कुछ ऐसे कारण जिनकी वजह से प्रेगनेंसी में सरदर्द होता है:

#1. ब्लड प्रेशर में गड़बड़ी के कारण भी सिर दर्द हो सकता है।

#2. यदि आपको गर्भावस्था के पहले माइग्रेन की शिकायत थी तो गर्भावस्था के दौरान इसका अनुभव अधिक होने की संभावना रहती है।

#3. गर्भावस्था के कुछ सामान्य लक्षण जैसे थकान, भूख, व्यायाम की कमी, डिहाइड्रेशन आदि के कारण भी सर दर्द हो सकता है।

#4. कैफीन का सेवन करना या अचानक इसका सेवन करना बंद कर देने के कारण भी सिर दर्द हो सकता है।

#5. नाक बंद होने से भी आपके गले के पीछे के हिस्से में दर्द हो सकता है जिससे सर दर्द उत्पन्न हो सकता है।

#6. प्रेगनेंसी के दौरान आंखों के आसपास के प्रेशर में बदलाव आने के कारण आंखों पर पड़ने वाला तनाव दृष्टि को प्रभावित करता है और सिरदर्द उत्पन्न कर सकता है।

#7. तनाव, अत्यधिक चिंता या अवसाद की वजह से भी सर दर्द हो सकता है।

#8. निर्जलीकरण के कारण भी आप अपनी गर्दन के पिछले हिस्से के आसपास दर्द महसूस कर सकती है जो सिर दर्द का एक मुख्य कारण है।

Read: गर्भावस्था में व्रत रखते समय इन बातों का रखें ध्यान

गर्भावस्था के दौरान सिर दर्द का इलाज (Home Remedies For Headache During Pregnancy in Hindi)

इस दौरान होने वाले सिरदर्द को आप कुछ घरेलू तरीके (Home Remedies for Headache during Pregnancy in Hindi) से भी ठीक कर सकती हैं जो इस प्रकार है:

#1. एक चम्मच नींबू की पत्तियां और केमोमाइल चाय का उपयोग करके हर्बल चाय बनाये। अब इसमें आधा चम्मच शहद व सौंफ मिलाएं और इसे पी ले। यह चिंता व तनाव में होने वाले सिरदर्द तो अच्छी तरह से कम करता है।

#2. एक गिलास दूध में 3 चम्मच दालचीनी पाउडर मिलाएं और इसे उबाल ले। ठंडा होने पर इसमें स्वाद के लिए शहद मिलाएं और पी ले।

#3. एक गिलास पानी में दो चम्मच सेब का सिरका और दो चम्मच शहद मिलाकर पीने से भी सर दर्द में आराम मिलता है।

#4. अदरक में मौजूद एंटीआक्सीडेंट सिर दर्द को कम करने में मदद करते हैं। आप अदरक की चाय या काढ़ा बनाकर पी सकती है।

#5. लैवेंडर तेल सिर दर्द से राहत दिलाने में मदद करता है। यह गर्भावस्था के दौरान बेहतर नींद लाने में भी मदद करता है।

#6. गर्म पानी का भाप लेने से साइनस दूर होता है और बंद नाक से राहत मिलती है जिससे आपको सिर दर्द से आराम मिलता है।

#7. कंधे पीठ और गर्दन पर अच्छी तरह से मालिश करें, इससे माइग्रेन से राहत मिलती है। ध्यान रखे कि मालिश किसी ऐसी महिला से ही करवाएं जिनके पास गर्भवती महिलाओं की मालिश करने का अच्छा खासा अनुभव हो। इसके अलावा आप औषधिएं तेलों को उपयोग कर सकती हैं। इस तरह की मालिश एक हद तक तनाव से होने वाले सिरदर्द को भी कम करने में मदद करती है।

#8. ठंडे पानी से स्नान करने से भी अस्थाई रूप से सिर दर्द से राहत मिलती है। अगर अधिक दर्द हो और नहाना ना चाहें तो आप चेहरे पर ठंडे पानी की कुछ बूंदें भी डाल सकती हैं। इसके अलावा गर्म पानी में सेंधा नमक डालकर स्नान करने से भी सिरदर्द से आराम मिलता है।

#9. गर्भावस्था के दौरान स्तन लिगामेंट्स आपके बढ़ते स्तनों को सपोर्ट करने के लिए फैलते हैं जिससे आपकी पीठ और गर्दन पर भी काफी दबाव पड़ता है। कई बार इस वजह से सिर दर्द होता है। इसलिये प्रेगनेंसी के समय सही ब्रा का चुनाव करें।

Read: यह सुपरफूड गर्भ में बच्चों के बढ़ने में करते हैं मदद

गर्भावस्था में सिरदर्द से बचाव

पहली तिमाही के दौरान ज्यादातर हार्मोन परिवर्तन के कारण ही सिर दर्द होता है और आप इन्हें रोकने के लिए बहुत ज्यादा कुछ नहीं कर सकती हैं। हालांकि अनुशासित जीवन शैली होने से सिरदर्द की संभावना कम हो सकती है।

#1. ब्लड शुगर का स्तर कम होने से गर्भावस्था के दौरान सिर दर्द हो सकता है या यह भोजन न करने का परिणाम
होता है। इसलिए स्वस्थ व पौष्टिक आहार सही समय पर व सही मात्रा में खाएं।

#2. गर्भावस्था के दौरान आपको पर्याप्त आराम करने की भी आवश्यकता होती है क्योंकि इस दौरान महिलाएं ज्यादा तनाव व थकान का अनुभव करती है। इसलिए इस दौरान आप ज्यादा से ज्यादा आराम करने का प्रयास करें या ऐसी चीजें करें जिसमें ज्यादा शारीरिक गतिविधि ना हो।

#3. संसाधित मीट, चॉकलेट, आइसक्रीम जैसी चीजों से भी सर दर्द हो सकता है। अपने खाने पर ध्यान दें क्योंकि आप जो खाती है उसकी वजह से आपका सिर दर्द हो रहा हो तो ऐसे खाद्य पदार्थों को अपनी डाइट से बाहर करे।

#4. कैफीन का सेवन ना करें। यदि आपको कैफीन की चीजों का सेवन करने की ज्यादा आदत है तो आप धीरे-धीरे उसका सेवन कम कर सकती है। उदाहरण के लिए यदि आप आमतौर पर 1 दिन में तीन से चार कप कॉफी लेती है तो आपको अब उसकी मात्रा कम कर देनी चाहिए।

#5. आप सुबह उठकर पार्क में ताजी हवा में सैर करने जाना शुरू करें। ताजी हवा में सांस लेने से या कमरे की खिड़कियों को खुला रखने से आपके सिर दर्द की शिकायत कम होती है।

Read: Top Ten Food to Eat During Pregnancy in Hindi

#6. इस दौरान आपको तंग कपड़े नही पहनने चाहिए।

#7. गर्म स्थानों पर जाने से बचे व तेज गंध से भी दूर रहे।

#8. अपने उठने-बैठने व सोने की मुद्राएं सही रखें। इस दौरान किस तरह से उठना व बैठना चाहिए इसके बारे में पूरी जानकारी रखें।

#9. तनाव से बचने के लिए कुछ गतिविधियों में भाग ले जैसे जन्म योग क्लासेज, मेडिटेशन सेंटर, योगा आदि।

#10. कोई भी कम करने के लिए ज्यादा लम्बे समय तक झुकी ना रहे।

Read: Heartcare Tips During Pregnancy in Hindi

क्या आप एक माँ के रूप में अन्य माताओं से शब्दों या तस्वीरों के माध्यम से अपने अनुभव बांटना चाहती हैं? अगर हाँ, तो माताओं के संयुक्त संगठन का हिस्सा बने। यहाँ क्लिक करें और हम आपसे संपर्क करेंगे।

null