प्रेगनेंसी के बाद झड़ते बालों के लिए 15 घरेलू उपाय

प्रेगनेंसी के बाद झड़ते बालों के लिए 15 घरेलू उपाय

प्रसव के बाद महिलाओं को कई तरह की परेशानियों से गुजरना पड़ता है। उनमें से एक परेशानी है बालों का झड़ना (Balon Ka jhadna)। महिला के गर्भधारण करने के बाद उनके बाल मोटे और चमकदार हो जाते हैं परंतु प्रसव के बाद महिला के बाल अचानक तेजी से गिरने लगते हैं। महिला अपने नवजात शिशु की देखभाल में इतना व्यस्त हो जाती है कि वह अपना ख्याल तक रखना छोड़ देती है। हालांकि इस समस्या से निजात पाने के लिए बाजार में कई दवाइयां उपलब्ध है परंतु बच्चों को स्तनपान कराने की वजह से आपको दवाई ना लेने की सलाह दी जाती है। डिलीवरी के बाद बाल झड़ना कई बार सामान्य भी होता जिसे आप आसानी से खत्म कर सकती हैं। आप कुछ घरेलू उपाय (Home Remedies for Hair Fall in Hindi) अपनाकर प्रसव के बाद बालों के गिरने की समस्या को काफी हद तक कम कर सकती हैं।

प्रेगनेंसी के बाद झड़ते बालों को रोकने के घरेलू उपाय (Home Remedies for Hair Fall After Delivery in Hindi)

ऐसा माना जाता है कि हर इंसान के प्रतिदिन 80 से 100 बाल गिरते या झड़ते हैं परंतु गर्भावस्था के दौरान महिला के हार्मोन में बदलाव के कारण बाल लंबे समय के लिए टेलोजन नामक विश्राम में चले जाते हैं और झड़ने बंद हो जाते हैं। प्रसव के बाद अक्सर महिलाओं के बाल झड़ना (Delivery ke Baad Baal Jhadna) शुरू होते हैं। ज्यादातर महिलाओं के बाल डिलीवरी के 3 महीने बाद बाल झड़ना शुरू होते हैं। इस समस्या से निजात पाने के लिए कुछ घरेलू उपचार (Baal Jhadne ke Gharelu Upay) आप अपना सकते हैं, जो निम्न है:

#1. अंडे की सफेदी (Egg white)

बाल झड़ने की समस्या को रोकने के लिए अंडे की सफेदी बहुत उपयोगी उपाय माना जाता है। इसका सही मात्रा में इस्तेमाल बालों का गिरना कम कर देता है। इसके लिए आप सबसे पहले अंडे की सफेदी को अलग से एक कटोरी में निकाल कर उसे अच्छी तरह से फेंट लें। फिर आप उसमें एक चम्मच शहद और जैतून का तेल मिलाकर उसका पेस्ट बना लें। अब आप इसे सिर की त्वचा पर लगा कर आधे घंटे तक रखें और उसके बाद बालों को गुनगुने पानी से धो लें। यह एक बहुत अच्छा घरेलू उपाय (Home Remedies for Hair Loss) है जो बालों को गिरने से रोकता है व नए बाल आने में और उसको मुलायम बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इसके अलावा जैतून का तेल बालों को मजबूती प्रदान करने व चमक लाने में उपयोगी होता है।

इसे भी पढ़ेंः प्रेगनेंसी के दौरान पैर के फूल जाने पर 10 घरेलू उपाय

#2. दही (Curd)

दही बालों को मुलायम बनाने और झड़ने से रोकने में बहुत उपयोगी उपाय है। दही बालों के लिए सर्वश्रेष्ठ कंडीशनर के रूप में भी जाना जाता है। इसके लिए आप अपने सिर की त्वचा और बालों पर दही को अच्छे से लगाकर 10 से 15 मिनट के लिए रखें। उसके बाद अपने बालों को पानी से धो लें। इससे आपके बाल गिरने से तो बचेंगे ही और साथ ही साथ बालों की गुणवत्ता में भी सुधार होगा।

#3. आंवला (Aamla for Postpartum Hair Loss)

आंवले का प्रयोग औषधीय रूप में कई दवाइयों में व शरीर की विभिन्न समस्याओं के लिए किया जाता है जिसे आप कई तरह से इस्तेमाल कर सकती है जैसे कि आंवले का मुरब्बा, सब्जी, जूस या फिर इसका तेल। इसके तेल को बालों में लगाने से बहुत फायदा मिलता है। आंवले के तेल को किसी दूसरे अन्य तेल में मिलाकर उसे हल्का गर्म करके बालों में लगाएं फिर अपने बालों की मालिश करें। इससे आपके बाल झरने के साथ-साथ उनकी लंबाई में भी वृद्धि होगी। आप 4 से 6 आंवले को नारियल बादाम के तेल में डालकर गर्म करें और इस तेल में आंवले को तब तक पकने दें जब तक तेल का रंग हरा नहीं हो जाता है। अब तेल को ठंडा रख करके इसे हफ्ते में कम से कम दो से तीन बार अपने सिर पर लगाकर उसकी अच्छे से मालिश करें।

#4. मेथी के बीज (Fenugreek)

बाल झड़ने की समस्या से छुटकारा पाने के लिए मेथी का इस्तेमाल किया जाता है। यह बालों को झड़ने से रोकने का काम करती है। इसके लिए आपको रात के समय में मेथी के दानों को पानी में भिगोकर रख देना चाहिए। अगले दिन सुबह उन्हें पीसकर उसका पेस्ट बना लें। इस पेस्ट को अपने सिर पर लगाकर अच्छे से मालिश करें। आधे घंटे बाद आप बालों को मेथी के पानी से धो ले। आप मेथी के दानों को सिर में लगाने वाले तेल में मिलाकर उसे गर्म करके भी लगा सकती है। इससे भी आपको काफी आराम मिलेगा।

#5. नारियल (Coconut)

नारियल भी प्रसव के बाद हेयर फॉल की समस्या से छुटकारा दिला सकता है। अगर आप अपने सिर पर नारियल का दूध लगाती है तो भी आप इस समस्या से मुक्त हो सकती हैं। इसके अलावा आप नारियल का सख्त भाग को जलाकर उसकी राख बना ले। फिर उस रात को किसी डिब्बे में डालकर रख दें। जब भी आप इससे मालिश करें तब आप उसमें थोड़ी सी राख मिलाकर मालिश करें। नियमित इस्तेमाल करने से आपके बाल टूटने बंद होकर चमकदार बनेंगे।
इसे भी पढ़ेंः 6 महीने के बच्चे का आहार चार्ट

#6. भृंगराज (Bhringaraj)

भृंगराज का पौधा बालों के लिए बहुत लाभदायक होता है इसलिए इसे केशराज भी कहा जाता है। यदि आपको इसका पौधा मिल जाता है तो आप इस पौधे की कुछ ताजी पत्तियां लेकर उसे छाया में सुखा दे और जब यह सूख जाए तब आप इसे पीसकर रख ले। अब आप रोजाना इसका 2 से 3 ग्राम पाउडर दूध और शहद के साथ मिलाकर अपने बालों में लगाएं। यदि आपको इसका पौधा नहीं मिल रहा है तो आप बाजार से इसकी गोलियां और पाउडर भी ले सकती है। आप कई अन्य औषधियां तेल जैसे महा भृंगराज तेल, रोजमेरी तेल आदि से भी मालिश कर सकती हैं।

#7. अरंडी का तेल (Castor Oil)

सर्दियों में अरंडी के तेल को बालों के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है। इसमें ओमेगा-3 फैटी एसिड होने के कारण प्रसव के बाद बाल झड़ने की समस्या के लिए बहुत उपयोगी है। इस तेल में नारियल और बादाम तेल मिलाकर, फिर उसे गर्म करके अपने सिर पर उससे मालिश करें। उसके 2 घंटे के बाद अपने सिर को पानी से धो लें। इससे भी आपको बाल झड़ने की समस्या से काफी आराम मिलेगा।

#8. एलोवेरा (Aloe Vera)

एलोवेरा में विटामिन और खनिज होने के कारण यह सिर पर नए बाल उगाने में काफी कामगार होता है। इसके लिए आप एलोवेरा के पत्तों से जेल निकालकर इससे अपने बाल और सिर की त्वचा पर मालिश करें। इसे एक से डेढ़ घंटे तक बालों में रहने दे फिर बालों को धो लें। आप यह घरेलू उपाय हफ्ते में कम से कम दो से तीन बार करें। इससे आपको झड़ते बालों (Jhadte Balon) की समस्या से आराम मिलेगा।

#9. बालों की मसाज करें (Do Hair Massage)

आपको नियमित रूप से अपने बालों में कम से कम 10 से 15 मिनट तक गुनगुने तेल से मालिश करनी चाहिए। मालिश करने से रक्त परिसंचरण तेजी से बढ़ता है और आपको आराम और शांति भी मिलती है। अगर आप रोजाना तेल नहीं लगाना चाहती है तो हफ्ते में दो से तीन बार अपने बालों के तेल से मालिश करें। मालिश करते समय यह भी ध्यान रखें कि अपने हाथों को बालों पर ज्यादा जोर से रगड़े नहीं क्योंकि इससे आपके बाल और ज्यादा टूटेंगे। इसलिये हल्के हाथों से अपने सिर की त्वचा की मालिश करें।
इसे भी पढ़ेंः सर्दियों में बालों का ख्याल रखने के 7 आसान उपाय

#10. पौष्टिक आहार ले (Eat healthy food)

प्रसव के बाद आपके शारीरिक व मानसिक रूप से स्वस्थ रहने के लिए आपको पौष्टिक आहार का सेवन करना चाहिए। जब आप गर्भावस्था के दौरान पौष्टिक आहार लेती थी तो आपके बालों और त्वचा काफी खूबसूरत हो जाते थे। हरी सब्जियां ना केवल स्वस्थ आहार होते हैं बल्कि इनमें एंटीऑक्सीडेंट गुण भी पाए जाते हैं जो बालों की रक्षा करते हैं। आप अपने आहार में मेवे, अलसी के बीज, अंडा, बेरी, हरी पत्तेदार सब्जियां आदि का सेवन अवश्य करें। इन सभी खाद्य पदार्थों में कई तरह के पोषक तत्व होते हैं जो बालों को झड़ने से रोकने के साथ-साथ इन्हें मजबूत, मुलायम और चमकदार बनाने में मदद करते हैं।

#11. तनाव से बचें (Be positive)

प्रसव के बाद तनाव होने से हार्मोन में भी तेजी से बदलाव होता है जो बाल झड़ने का एक मुख्य कारण बनता है। इसलिए महिला को प्रसव के बाद चिंता मुक्त होकर तनाव को नहीं पनपने देना चाहिए। इसके लिए आप प्रेगनेंसी क्लासेस या फिर योगा और प्राणायाम कर सकती है। योग आपको प्रसव के बाद होने वाले तनाव से बचाने में बहुत मदद करता है।

#12. बालों को कसकर ना बांधे (Don’t tie hairs tightly)

आप बालों में कसकर चोटी बांधने से बचें। इससे आपकी खोपड़ी पर दबाव पड़ता है और बाल खींचने के कारण टूटने लगते हैं। बालों में जरूर से ज्यादा एयरपिन, टाइट रबड़ बैंड आदि के इस्तेमाल से भी बचे। बालों पर किसी इलेक्ट्रिकल उपकरण का भी इस्तेमाल ना करें जैसे ब्लो ड्राई हेयर, स्ट्रेटनर इत्यादि। बालों के ऐसे हेयर स्टाइल से भी बचे जिससे बालों के ज्यादा टूटने का खतरा बना रहता है।

#13. सही कंघी का इस्तेमाल (Choose right comb)

बालों के टूटने का कारण गलत कंघी का चुनाव भी हो सकता है। इसलिए जब आप कंघी खरीदती है तो मोटे दांत वाली और मजबूत कंघी का इस्तेमाल करें। जब आप बालों पर कंघी करती है तो हल्के हाथों से बालों को सुलझाते हुए कंघी करें। बालों में बार-बार कंघी करने की आदत भी ना डाले। हो सके तो आप गीले बालों में कंघी करने से भी बचें। इससे भी बाल ज्यादा टूटते झड़ते हैं। इसलिए आगे से आप बड़े दांत वाली मजबूत कंघी का इस्तेमाल करें।

#14. सही शैंपू का चयन (Choose right shampoo)

बालों को धोने के लिए हमेशा सोच समझकर ही शैम्पू का चुनाव करें। अगर आप एक दिन छोड़कर अपने बालों को धोती है तो प्राकृतिक और हेयर हर्बल क्लींजर का इस्तेमाल करे जो हानिकारक रसायन से मुक्त होता है। ज्यादा स्ट्रांग शैंपू बाल झड़ने का एक कारण बनता है। अगर आप बालों में कलर इत्यादि करती है तो इससे भी आप सावधानी बरतें और कॉस्मेटिक कलर का इस्तेमाल करने से बचें। आप इसके लिए बालों पर मेहंदी का इस्तेमाल कर सकती है।

#15. दवाइयों का ध्यान रखें (Take care of medicines)

प्रसव के बाद महिलाओं को कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है जैसे कि सिर दर्द, कमर दर्द, तनाव इत्यादि। इसके लिए वे कई तरह की दवाइयां लेनी लगती है जिससे भी उनके स्वास्थ्य पर और बालों के झड़ना (Postpartum Hair Fall) इत्यादि पर बुरा प्रभाव पड़ता है। इसलिए आप खुद से कोई भी दवाई लेने से बचें व अगर आपको कोई समस्या है तो अपने डॉक्टर से सलाह लेकर ही किसी प्रकार की दवाई का सेवन करें।

इसे भी पढ़ेंः प्रसव के बाद किये जाने वाले 7 मुख्य योगासन

क्या आप एक माँ के रूप में अन्य माताओं से शब्दों या तस्वीरों के माध्यम से अपने अनुभव बांटना चाहती हैं? अगर हाँ, तो माताओं के संयुक्त संगठन का हिस्सा बने। यहाँ क्लिक करें और हम आपसे संपर्क करेंगे।

null

null