क्या आप जानते हैं शकरकंद खाने के यह 10 मुख्य फायदे

क्या आप जानते हैं शकरकंद खाने के यह 10 मुख्य फायदे

शकरकंद को मीठे आलू या स्वीट पोटैटो (Sweet Potato) के नाम से भी जाना जाता है। ज्यादातर लोग इसे आलू के साथ जोड़ते हैं परंतु पोषक तत्व और स्वास्थ्य के हिसाब से इसमें कई फायदे पाए जाते हैं। साल भर में इसकी कई अलग-अलग किस्मे मिलती है जैसे कि लाल रंग के गूदे जो सूखे और ठोस होते हैं व सफेद और पीले रंग के गूदे के अंदर बहुत ज्यादा रस होता है। लाल रंग के शकरकंद की खुशबू अलग ही होती है। शकरकंद को उबालकर खाने से इनके अंदर पोषक तत्वों की मात्रा और बढ़ जाती है। इसके अंदर बीटा कैरोटीन (Beta-Carotene) की मौजूदगी होती है। शकरकंद अपने स्वाद के कारण बच्चों को बहुत अच्छी लगती है। सर्दियों में कंदमूल अधिक फायदेमंद रहते हैं क्योंकि यह शरीर को गर्म रखने में मदद करते हैं। तो आइए जानते हैं शकरकंद खाने से क्या फायदे (Benefits of Sweet Potato) होते हैं।

बच्चों के लिए शकरकंद के फायदें (Health Benefits of Sweet Potato For kids in Hindi)

#1. कैलोरी और स्टार्च (Calorie and Starch) शकरकंद यानी मीठे आलू में कैलोरी व स्टार्च की मात्रा अधिक होती है और इनमें फैट और कोलेस्ट्रोल की मात्रा ना के बराबर होती है। इसमें फाइबर एंटीऑक्सीडेंट, विटामिन और लवण भरपूर मात्रा में होते हैं। फाइबर की मात्रा ज्यादा होने से शकरकंद शरीर में पानी की मात्रा को बनाए रखने में मदद करता है। शरीर में जल संतुलन को बनाए रखने के लिए शकरकंद बहुत फायदेमंद है। यह आपको व आपके बच्चे को हाइड्रेटड रखने और कोशिकाओं के अच्छे से काम करने में मदद करता है।
इसे भी पढ़ेंः नवजात बच्चों की गैस दूर करने के 10 घरेलू उपाय #2. विटामिन डी की मात्रा (Vitamin D) विटामिन डी की कमी को पूरी करने के लिए शकरकंद का सेवन करना बहुत लाभदायक रहता है। विटामिन डी बच्चों के विकास के लिए बहुत जरूरी है और यह बच्चों के दांत, हड्डियों और नसों का अच्छे से विकास करता है और इन्हें मजबूत बनाता है। आप अपने शिशु को शकरकंद की प्यूरी (Shakarkandi Puree) भी बना कर दे सकती है। आप इसे अपने शिशु के 6 महीने के होने के बाद देना शुरू कर सकती हैं। यह शिशु आहार के लिए बहुत बेहतरीन है क्योंकि पकने के बाद यह मुलायम और मीठा हो जाता है।   #3. विटामिन ए और बी6 की अधिक मात्रा (Rich in Vitamin A and B6) शकरकंद में विटामिन ए और बी6 की भरपूर मात्रा होती है। विटामिन बी6 शरीर में होमोसिस्टीन नाम के एमिनो एसिड के स्तर को कम करने में सहायक होता है। इस अमीनो एसिड की मात्रा अधिक होने पर बीमारियों का खतरा भी बढ़ जाता हैं। शकरकंद में विटामिन ए की मात्रा भी भरपूर होने के कारण बच्चों को यह जरूर खिलाना चाहिए।   #4. आयरन की मात्रा (Rich in Iron) जिन बच्चों में आयरन की कमी होती है उन्हें शकरकंद का सेवन जरूर करना चाहिए। शकरकंद का सबसे बड़ा फायदा (Shakarkand ke Fayde) यह है कि इसमें आयरन की मात्रा भी भरपूर होती है। इसलिए इसका सेवन करने से शरीर में एनर्जी बनी रहती है। यह रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाता है और ब्लड सेल्स का निर्माण भी अच्छे से करता है। शकरकंद का सेवन करने से बच्चों के शरीर में कई तरह की बीमारियां दूर होती है। इसे भी पढ़ेंः बच्चों के लिए ओट्स के 10 मुख्य फायदे #5. कैरोटीनॉइड की मात्रा (Carotenoid) जिन बच्चों में मधुमेह की बीमारी पाई जाती है उन्हें मीठा खाना सही नहीं माना जाता है परंतु मीठे आलू या शकरकंद को आप मधुमेह में भी अपने बच्चे को दे सकती है। यह मधुमेह के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है। बच्चों के शरीर में रक्त शर्करा का संतुलन सही बना रहता है। आप इसे कार्बोहाइड्रेट युक्त भोजन या चावल की जगह भी इस्तेमाल कर सकती है। इससे आपके बच्चे के शरीर को कोई नुकसान नहीं होता है।   #6. पोटेशियम की मात्रा (Rich in Potassium) शकरकंद में पोटेशियम की भी भरपूर मात्रा होती है। इसलिए शकरकंद का सेवन करने से नर्वस सिस्टम की सक्रियता को सही बनाए रखने में सहायता मिलती है। यह किडनी को भी स्वस्थ रखने में महत्वपूर्ण योगदान देता हैं।   #7. विकास में मदद (Helps in Development) कई बार अचानक बच्चों की वृद्धि रुक जाती है तो ऐसी परिस्थिति में आप अपने बच्चों को शकरकंद का सेवन करवा सकती है। इसका सेवन करने से बच्चों को सही विकास में मदद मिलती है। जिन बच्चों की लंबाई रुक जाती है तो उनकी लंबाई बढ़ने में भी यह कारगर साबित होता है।   #8. वजन बढ़ाने में सहायक (Sweet Potato Helps in Weight Gain) शकरकंद खाने से बच्चों का वजन बढ़ाने में सहायता मिलती है। इसमें विटामिन, खनिज और कई तरह के प्रोटीन पाये जाते है। यह पेट और आंतों के लिए बहुत फायदेमंद होता है। शकरकंद में बीटा कैरोटीन और फास्फोरस होने के कारण यह नेत्र और हृदय स्वास्थ्य के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है। इसे भी पढ़ेंः अनार खाने के 7 मुख्य फायदे #10. स्वस्थ त्वचा के लिए (For Healthy skin) शकरकंद में विटामिन सी होने से यह त्वचा की कोशिकाओ का निर्माण करता है जिससे आपके बच्चे और अधिक सुंदर लगने लगते हैं। यह बच्चों में खून को भी बढ़ाता है जिससे उनके शरीर में स्फूर्ति बनी रहती है।
शकरकंद से बनने वाले व्यंजन (Sweet Potato Dishes for Kids in Hindi) पैनकेक (Sweet Potatoes Pancake) शकरकंद से आप बच्चों के लिए स्वादिष्ट पैनकेक बना सकते हैं। शकरकंद पैनकेक (Sweet Potato Pancake) बनाने की रेसिपी जानने के लिए यहां क्लिक करें: Sweet Potato Pancake Recipe in Hindi   उबले शकरकंद की चाट (Sweet Potato or Shakarkand Chaat) शकरकंदों को अच्छी तरह उबाल कर उसे छिल लें। अब इसे डिजाइनर टुकड़ों में काटे। एक प्लेट में कुछ सेब और उबले हुए आलूओं को भी काट लें। एक ऊपर से हल्का चाट मसाला डालें और बच्चे को खाने को दें।   शकरकंदी प्यूरी (Shakarkandi Puree) छह माह के बाद बच्चों को आप शकरकंद आसानी से दे सकती हैं। इसके लिए शकरकंद को अच्छे से उबाल कर मैश कर लें। फिर इसमें दूध डालें और पतला करें। इसे इतना पतला बना लें ताकि बच्चा चम्मच से खा सके। शकरकंद के यूं तो कई फायदें होते हैं लेकिन इसे अधिक मात्रा में देने भी बचें। इसे भी पढ़ेंः बच्चो को शहद देने के 15 मुख्य फायदे क्या आप एक माँ के रूप में अन्य माताओं से शब्दों या तस्वीरों के माध्यम से अपने अनुभव बांटना चाहती हैं? अगर हाँ, तो माताओं के संयुक्त संगठन का हिस्सा बने। यहाँ क्लिक करें और हम आपसे संपर्क करेंगे।

null

null