बच्चो में बुरी नज़र लगने के 13 लक्षण व उसे उतारने के 10 उपाय

बच्चो में बुरी नज़र लगने के 13 लक्षण व उसे उतारने के 10 उपाय

हिंदू धर्म में हमारे पूर्वजों के समय से चलती आ रही प्राचीन परंपरा और मान्यताएं आज भी हमारे जीवन का हिस्सा हैं। इन्हीं मान्यताओ में से एक हैं बच्चों को बुरी नजर लगना (Bachchon ko Buri Nazar Lagna)। सबसे पहले आपका ये जानना जरुरी हैं कि बुरी नजर का लगना कोई रोग नहीं हैं। कई लोग इसे अंधविश्वास का भी नाम देते हैं परंतु कई बार बुरी नजर का प्रभाव मनुष्य को रोगी के सामान बना देता हैं अथवा इसके प्रभाव से मनुष्य को अनेक प्रकार की परेशानियों से होकर गुजरना पड़ता हैं। आमतौर पर यह मान्यता हैं कि बुरी नजर के लगने पर मनुष्य की सभी सकारात्मक ऊर्जा नष्ट हो जाती हैं और उसके सभी अच्छे विचार बुराई से बदलने लगते हैं जो मुसीबत का कारण बन सकती हैं। जब बच्चे बहुत छोटे होते हैं तब उन्हें नजर जल्दी लगती हैं क्योंकि वह आकर्षक, सरल और कोमल होते हैं। नजर लगाना अथवा नजर लगने के कुछ सामान्य लक्षणों के द्वारा आप आसानी से बुरी नजर (Buri Nazar) लगने को पहचान सकती हैं। इसे भी पढ़ें: सयुंक्त व एकल परिवार में बच्चों के रहने के फायदे व नुकसान

बुरी नजर के लक्षण (Bachchon ko Buri Nazar Lagne ke Lakshan)

बुरी नज़र से अपने बच्चे को कैसे बचाए? चित्र स्रोत: WordPress.com #1. गर्भवती महिला का दूध सूख जाना। #2. अचानक उल्टी या डायरिया का होना। #3. बिना बात के धन संबंधी नुकसान होना। #4. अचानक घर में रखे पशुओं की मौत होना। #5. खून में बदलाव होना। #6. अक्सर दूध का फट जाना। #7. बगैर किसी कारण के छोटे बच्चों का जोर-जोर से रोना। #8. अत्यधिक तनाव होना। #9. वजन का कम होना। #10. पति और पत्नी के बीच रोज किसी न किसी बात को लेकर मन मुटाव होना। #11. आंखों का भारी होना। #12. शिशु के द्वारा माँ का दूध न पीना। #13. एक तीव्र बेचैनी और चिंता का बार-बार सताना। वैसे तो हमारे समाज में अलग-अलग धर्म व जाति के आधार पर नजर उतारने के बहुत से उपाय हैं पर यहां पर आपको कुछ उपाय बताए जा रहे हैं जिन्हें आप अपना कर सकती हैं।
इसे भी पढ़ें: 1 से 3 साल के बच्चों को खुद खाने की आदत कैसे डालें?

नजर उतारने के उपाय (Bachchon ki Nazar Utarne ka Tarika)

बुरी नज़र से अपने बच्चे को कैसे बचाए? चित्र स्रोत: videoblocks.com #1. बच्चे नाजुक होते हैं इसलिए उनकी नजर भी भगवान पर चढ़े नाजुक फूल, शक्कर, दूध से उतारी जाती हैं। एक तांबे के लोटे में पानी और ताजा फूल लेकर बच्चे पर से 11 बार उतारे। इसे किसी भी गमले में डाल दें, नजर का प्रभाव कम होगा। ऐसे ही दोनों हाथों से शक्कर से नजर उतार सकती हैं। मुट्ठी में शक्कर लेकर सिर से पैर तक दोनों हाथों से गोल घुमाते हुए नजर उतारे और उसे तुरंत वाश बेसिन में पानी की तेज धार में गला दें इससे बच्चे को लगी मीठी नजर गलती हैं। दूध में मिश्री डालकर 7 बार उतारे और और शिव जी के मंदिर में रख आएं। #2. नमक, राई और सुखी लाल मिर्च लेकर उसे शिशु पर से 7 बार वारे और उसके बाद इन तीनों चीजों को अंगारे में जला दे। #3. शनिवार के दिन हनुमान मंदिर में जाकर उनके कंधों पर से सिंदूर लाकर बुरी नज़र से पीड़ित बच्चे के माथे पर लगाने से बुरी नजर का प्रभाव कम हो जाता हैं। #4. कई बार स्तनपान करते हुए बच्चे को नजर (Baccho ko Nazar) लग जाती हैं। ऐसे समय इमली की तीन छोटी डालियों को लेकर आग में जला कर नजर लगे शिशु पर से 7 बार घुमाकर फिर पानी से बुझा देते हैं। #5. भोजन पर लगी नजर किसी विशेष सामग्री के प्रति बच्चों में अरुचि पैदा कर देता हैं। तो तैयार भोजन में से थोड़ा-थोड़ा एक पत्ते में रखकर उस पर गुलाब छिड़क कर रास्ते में रख दें। फिर बच्चे को खाना खिलाएं नजर उतर जाएगी। #6. लाल मिर्च, अजवाइन और पीली सरसों को मिट्टी के एक बर्तन में आग लेकर जलाएं। फिर उसकी धूप नजर लगे बच्चों को दें। इससे किसी भी प्रकार की नज़र हो ठीक हो जाएगी। #7. बुरी नजर से बचने के लिए शनिवार को बच्चे के ऊपर से झाड़ू या उसी के बाएं पैर की चप्पल या जूते लेकर 7 बार उल्टे क्रम से उतारे और दरवाजे की दहलीज पर तीन बार झाड़ कर अंदर आ जाए। यह भी नजर उतारने का एक बहुत पुराना पारंपरिक तरीका हैं। #8. बच्चों को नजर लग गई हैं और हर वक्त वह परेशान व बीमार रहता हैं तो लाल साबुत मिर्च को बच्चे के ऊपर से वार कर जलती आग में डालने से नजर उतर जाएगी। #9. बच्चा दूध पीने में आनाकानी करे तो शनिवार के दिन कच्चा दूध उसके ऊपर से 7 बार वार कर कुत्ते को पिला देने से बुरी नजर (Buri Najar) का प्रभाव दूर हो जाता हैं।

इसे भी पढ़ें: छुट्टियों में बच्चो को घर पर ही कैसे व्यस्त रखे? #10. यदि कोई बच्चा नजर दोष से बीमार रहता हैं और उसका समस्त विकास रुक सा गया हैं तो फिर कढ़ी और सरसों को बच्चे पर से 7 बार वार कर चूल्हे में झोंक दें। यदि यह सुबह, दोपहर और शाम तीनों समय करें तो एक ही दिन में नजर दोष दूर हो जाता हैं। गर्भवती महिलाओं को बुरी नजर (Pregnancy Mein Buri Najar) से बचाने के लिए इन उपायों को करना चाहिए। जब भी वह घुमने के लिए बाहर निकले तो वह अपने साथ दो या तीन नीम के पत्ते जरूर रखें तथा बाहर से वापस आने के बाद उन नीम के पत्तों को जला दें। इससे सभी प्रकार की नकारात्मक उर्जा भी उन पत्तों के साथ चल जाएगी। उपरोक्त जानकारी केवल जनमानस में प्रचलित चर्चाओं पर आधारित है। इसका कोई वैज्ञानिक स्त्रोत या शोध नहीं है। पाठकों को केवल स्वरूचि और विवेक के आधार पर ही इसे पढ़ना चाहिए। क्या आप एक माँ के रूप में अन्य माताओं से शब्दों या तस्वीरों के माध्यम से अपने अनुभव बांटना चाहती हैं? अगर हाँ, तो माताओं के संयुक्त संगठन का हिस्सा बने। यहाँ क्लिक करें और हम आपसे संपर्क करेंगे।

null