छोटे बच्चों के नाखून काटने के 5 आसान तरीके जरूर आजमाएं

छोटे बच्चों के नाखून काटने के 5 आसान तरीके जरूर आजमाएं

बच्चों के नाखून काटना एक मुश्किल कार्य होता है। बच्चों के नाखून काटने की जब बारी आती है तो मां को डर लगता है कि कहीं मेरे बच्चे की नाखून के साथ-साथ उंगली भी ना कट जाए क्योंकि एक तो बच्चा नाखून कटवाते समय बहुत ही हिलता-डुलता है व दूसरा उसकी उंगलियां भी बहुत कोमल होती है| इसलिए डर लगा रहता है कि कही उंगली ना कट जाए या नाखून ज्यादा ना कट जाए| शिशु के नाखून काटना एक माँ को बहुत मुश्किल काम लगता है लेकिन उसके बढ़ते हुए नाखूनों को ऐसे ही छोड़ भी नहीं सकते हैं| अगर उन्हें ऐसे ही छोड़ दिया जाए तो वह खुद के शरीर में खरोंच मार सकता है व उनमे गंदगी भी जमा हो जाती हैं जो खाने के साथ पेट के अन्दर जा सकती हैं| जिससे पेट में कीड़े होने का खतरा बना रहता हैं| इसलिए आप यह तय कर ले कि जब भी आपके बच्चे के नाखून आपको बढे हुए लगे आप उन्हें तुरंत काट दें परंतु पूरी सावधानी के साथ| तो चलिए जानते हैं कि नवजात शिशु और छोटे बच्चों के नाखून कैसे (Tips to Cut Kids Nails) काटने चाहिए?

नवजात शिशु व छोटे बच्चों के नाखून काटने का सही तरीका (Tips to Cut Kids Nails in Hindi)

आइये शिशु के नाखून काटने के कुछ आसान तरीके (Tips to Cut Kids Nails) जिन्हें अपनाकर आप आसानी से उनके नाखुनों को काट सकती हैं|

#1. सोते समय

आप शिशु के नाखून ऐसे समय काटे जब उनका ध्यान कही और हो जैसे कि दूध पिलाते समय या फिर जब वे सों रहे हो तो सबसे सही समय हैं उनके नाखुनो को काटने का| क्योंकि अगर वह जाग रहा हैं तो नाखून कटवाते समय वह हिलेगा जिससे उसकी ऊँगली कटने का खतरा बना रहता हैं और उसे चोट लग सकती हैं|

इसे भी पढ़ें: बच्चों का मुंडन कब और क्यों करवाएं और इसके 5 लाभ

#2. नहाने के तुरंत बाद

जब हम शिशु को नहलाते हैं तो पानी लगने से उसके नाखून बहुत नरम हो जाते हैं और उन्हें आसानी से काटा भी जा सकता हैं| इसलिये आप शिशु के नहलाने के तुरंत बाद भी नाखून काट सकती हैं| खासकर अगर नहाने के बाद शिशु सोता हैं तो वह सबसे उत्तम समय हैं उसके नाखुनो को काटने का| अगर आप नहाने के बाद नाखून नही काट पाती हैं तो उसके नाखून काटने से पहले गिले सूती कपडे से उसकी उँगलियों को साफ करले और फिर नाखून काटे|

#3. बेबी नेल कटर

आप जब भी शिशु के नाखून काटे तो बच्चो के लिए बनाई बेबी नेल कटर का ही उपयोग करे क्योंकि बड़ो के नेल कटर उनको चोट पहुंचा सकते हैं| बेबी नेल कटर उनकी उँगलियों के हिसाब से सही भी रहते हैं व इससे उनके नाखून भी अच्छे से कट जाते हैं|

इसे भी पढ़ें: बच्चों का मुंडन कब और क्यों करवाएं और इसके 5 लाभ

#4. हल्के हाथ से पकडे

शिशु के नाखून काटते समय आप उसकी हथेली को अपने हाथ में ले और ठीक से पकड़ ले| फिर नाखून को सीधा रखकर काटे| नेल कटर से काटते समय आप उसके बढे हुए नाखून को उसमे अच्छे से एडजस्ट कर ले और देख ले कि कही उसकी त्वचा उसमे ना आ रही हो और उसके बाद ही काटे| अगर आप कैंची से नाखून काटती हैं तो ब्लेड को एक दिशा से दूसरी दिशा में सावधानीपूर्वक घुमाये|

#5. काटने के बाद साफ-सफाई करे

पूरी तरह नाखून के कट जाने के बाद बेबी नेलफाइल से उसके किनारों को अच्छे से साफ करे क्योंकि नाखून के नुकीले कोनो से वह अपने शरीर पर खरोंच मार सकता हैं|

क्या आप एक माँ के रूप में अन्य माताओं से शब्दों या तस्वीरों के माध्यम से अपने अनुभव बांटना चाहती हैं? अगर हाँ, तो माताओं के संयुक्त संगठन का हिस्सा बने| यहाँ क्लिक करें और हम आपसे संपर्क करेंगे|

null