बच्चों के गले में दर्द दूर करने के 7 घरेलू उपाय

बच्चों के गले में दर्द दूर करने के 7 घरेलू उपाय

गले में संक्रमण एक बहुत ही सामान्य समस्या हैं जो कि वायरल होता हैं| लंबे समय तक गले में संक्रमण काफी तकलीफदेह होता हैं व साथ ही साथ यह आपके गले को भी जाम कर देता है| गले में होने वाली खराश अन्य बीमारियों की तरह लंबे समय तक नहीं रहती लेकिन कुछ ही दिनों में यह आपको पूरी तरह से प्रभावित कर बीमार कर देती हैं|

क्या है गले का संक्रमण?

गले में संक्रमण एक बहुत ही सामान्य स्वास्थ्य समस्या है| यह मूल रूप से तब होती है जब गले की नाजुक अंदरूनी परत वायरस या बैक्टीरिया से संक्रमित होती हैं जिसके परिणामस्वरुप सूजन, खांसी, गले में दर्द आदि की समस्या हो जाती हैं| कभी-कभी लंबे समय तक गले में रहने वाली खराश किसी गंभीर बीमारी का भी संकेत हो सकती हैं, ऐसे में तुरंत डॉक्टर को दिखाएं और पूरी चिकित्सा ले।

गले में दर्द के ज्यादातर प्रकार सर्दी, जुकाम और फ्लू फैलाने वाले वायरस के कारण होता हैं जो घरेलू देखभाल से ठीक हो जाते हैं|

गले के संक्रमण को दूर करने के लिए घरेलू उपचार

गले में संक्रमण की समस्या को दूर करने के लिए हमें कुछ चीजों का ध्यान रखना चाहिए जैसे कि ज्यादा तैलीय चीजें को और ज्यादा गर्म भोजन नहीं खाना चाहिए क्योंकि यह आपके गले को और उत्तेजित कर सकते हैं| इसलिये नरम व ठीक-ठीक गरम भोजन करना चाहिए| इससे बचने के लिए कुछ घरेलू उपचार हैं जो कि निम्न हैं:

#1. नमक वाला पानी

बच्चो के गले में सूजन और दर्द को दूर करने के लिए एक छोटा चम्मच नमक को हल्के गर्म पानी में अच्छे से मिला ले व नियमित रूप से अपने बच्चे को इससे गर्रारे करवाए| इससे गले की खिचखिच में काफी आराम मिलता हैं|

#2. हल्दी

हल्दी को चाय या दूध में डालकर हर्बल के मिश्रण के रूप में प्रयोग किया जाना चाहिए| माना जाता हैं कि हल्दी में एंटीसेप्टिक व सूजन विरोधी गुण होते हैं| इसके अलावा दूध में थोड़ी हल्दी डालकर उबाल लें और फिर सोने से पहले इसे अपने बच्चे को पिलाये|

इसे भी पढ़ें: बच्चो में 5 तरह की एलर्जी व उनको कैसे पहचाने?

#3. शहद

यह एक स्वादिष्ट और आराम देने वाली औषधि हैं| यह संक्रमण और घावो से लड़ने में बहुत प्रभावी होती हैं| एक गिलास गुनगुने पानी में 1 से 2 चम्मच शहद को मिलाकर अपने बच्चे को दिन में 4-5 बार थोडा-थोडा करके पिलाते रहे|

#4. अदरक

गले में संक्रमण को रोकने के लिए अदरक एक अच्छा घरेलू उपाय हैं| अदरक को चाय या दूध में डालकर पीने से गले के दर्द में राहत मिलती हैं| आप अदरक को पीसकर थोडा सा सब्जी बनाते वक्त भी डाल सकती हैं| इससे गले के दर्द में तो राहत मिलेगी ही व साथ में पेट से संबंधित बीमारियों में भी फायदा होगा|

#5. सेज

यह एक प्रकार की सुगंधित औषधि हैं| इस जड़ी-बूटी का उपयोग सदियों से उपचार के उद्देश्यों के लिए किया जाता हैं| यह गले में दर्द से आराम देने में सहायक होती हैं|

#6. काली मिर्च

एक कप पानी में चार से पांच काली मिर्च व तुलसी की 4 से 5 पत्तियों को उबाल कर काढ़ा बना ले| फिर इसे अपने बच्चे को दिन में थोडा-थोडा करके पिलाते रहे| काली मिर्च को दो बादाम के साथ पीसकर सेवन करने से गले को आराम मिलता हैं|

इसे भी पढ़ें: बच्चो में सर्दी व जुखाम के लिए 13 घरेलु नुस्खे

#7. लौंग और लहसुन

2-3 लौंग के साथ एक या दो लहसुन की कलियों को पीसकर उसका पेस्ट बनाकर, उसमें थोड़ा सा शहद मिला लें| इस मिश्रण को दिन में दो से तीन बार अपने बच्चो को दे|

शरीर में टोक्सिन की मौजूदगी गले की खराश को और बढ़ा देती हैं| इसलिए ज्यादा से ज्यादा तरल पदार्थ का सेवन करें ताकि टॉक्सिन शरीर से बाहर निकल जाएं|

गले में दर्द से बचाव

वायरल और बैक्टीरियल संक्रमण फैलाने वाले रोगाणु संक्रामक होते हैं इसलिए स्वच्छता को अपनाना सबसे बेहतर रोकथाम का तरीका हैं| इन तरीकों का पालन खुद भी करें और अपने बच्चों को भी सिखाएं:

  • अपने हाथों को अच्छी तरह खाना खाने से पहले व बाद में धोएं| खासकर टॉयलेट करने के बाद, छींकने व खांसी करने के बाद|
  • खाद्य पदार्थों व पीने के पानी के गिलास को एक दूसरे के साथ साझा ना करें|
  • खांसी और छींकते समय अपने मुंह पर रुमाल रखे|
  • घर की चीजों की नियमित सफाई रखें|
  • साथ ही घर में रोजाना स्पर्श में आने वाली चीजों की अच्छे से सफाई रखें|

इसे भी पढ़ें: बच्चो में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के 10 मुख्य आहार

क्या आप एक माँ के रूप में अन्य माताओं से शब्दों या तस्वीरों के माध्यम से अपने अनुभव बांटना चाहती हैं? अगर हाँ, तो माताओं के संयुक्त संगठन का हिस्सा बने| यहाँ क्लिक करें और हम आपसे संपर्क करेंगे|

null