सर्दियों में बच्चों की त्वचा का ख्याल रखने की 5 टिप्स

सर्दियों में बच्चों की त्वचा का ख्याल रखने की 5 टिप्स

बच्चों की स्किन बडों के मुकाबले दोगुनी तेजी से अपनी नमी खोती है। यही कारण है कि सर्दियों के मौसम में बच्चों की स्किन काफी शुष्क नजर आती है। बच्चों की स्किन को सर्दियों (Winter Skin Care) की ठंडी हवाओं से इसलिए भी समस्या हो सकती है क्योंकि उनकी त्वचा काफी नरम और कोमल होती है। यह सर्द हवाएं उनको बीमार भी बना सकती हैं। ठंडियों में बच्चों की स्किन को बेहतर बनाने के लिए कुछ खास बातों का ध्यान रखना चाहिए। आइयें जानें कि सर्दियों में बच्चों की त्वचा का हमें कैसे (Winter Skin Care Tips in Hindi) ख्याल रखना चाहिए।

सर्दियों में बच्चों की त्वचा का ख्याल रखने की 5 टिप्स

अच्छी गुणवत्ता का लोशन

बच्चों की त्वचा हमारे मुकाबले अधिक तेजी से अपनी नमी गंवाती है इसलिए कोशिश करें कि बच्चों के लिए अच्छी गुणवत्ता का ही लोशन चुनें। कोशिश करें कि लोशन चिपचिपा ना हो। अगर वह चिपचिपा होगा तो बच्चों की स्किन पर अधिक गंदगी जमा हो सकती है।

सर्दियों में बच्चों की त्वचा का ख्याल रखने की 5 टिप्स

सीधी सर्द हवाओं से बचाएं

सर्द हवाएं शुष्क होती है और यह त्वचा को काफी रूखा कर देती हैं। कोशिश करें कि बच्चों को बाहर निकालते समय पूरे कपड़ें पहनाएं और चेहरे पर क्रीम लगाएं। अगर बच्चे को पार्क आदि में लेकर जा रहे हैं तो उन्हें पूरी बाजू की कमीजें या टॉपी आदि अवश्य पहनाएं।

सर्दियों में बच्चों की त्वचा का ख्याल रखने की 5 टिप्स

नारियल तेल से करें मालिश

नारियल का तेल बच्चों की त्वचा और सर्द हवाओं के बीच बचाव का काम करता है। दोपहर के समय धूप में आप बच्चों को इसका तेल अवश्य लगाएं। नारियल का तेल बच्चों की स्किन पर एक बेरियर का काम करता है।

सर्दियों में बच्चों की त्वचा का ख्याल रखने की 5 टिप्स

पर्याप्त पानी पिलाएं

सर्दियों में बच्चे जल्दी पानी नही पीते जिस कारण उनके होंठ सूखने लगते हैं। इससे बचने के लिए बच्चों को पर्याप्त मात्रा में पानी अवश्य पिलाएं। हो सकता है पानी ज्यादा पीने से बच्चों को वॉशरूम बार-बार जाना पड़े या वह डायपर ज्यादा गीला करें लेकिन यह पूरी तरह से नॉर्मल होता है।

सर्दियों में बच्चों की त्वचा का ख्याल रखने की 5 टिप्स

स्पंज बाथ है बहुत जरूरी

सर्दियों में हर दिन नहाना बच्चों के लिए मुश्किल होता है लेकिन उनकी गंदी त्वचा का हर दिन साफ होना भी जरूरी है। इसके लिए गुनगुने पानी में डिटॉल डालकर उसे स्पंज बाथ अवश्य दें। स्पंज बाथ के बाद बच्चों को अच्छी तरह से तैयार कर दें। स्पंज बाथ देते हुए कमरे का दरवाजा बंद रखें ताकि उसे हवा ना लग सके।