प्रेगनेंसी के बाद अजवाइन का पानी पीने के फायदे

प्रेगनेंसी के बाद अजवाइन का पानी पीने के फायदे

अजवाइन वैसे तो सबके लिए बहुत फायदेमंद है परंतु यह महिलाओं के लिए एक खास जड़ी बूटी है खासकर प्रसव के बाद यह महिलाओं के लिए काफी फायदेमंद मानी जाती है। प्रसव के तुरंत बाद महिला को अजवाइन का पानी बना कर दिया जाता है। डिलीवरी से पहले और बाद में यानी गर्भवती महिला को नौवां महीना लगने के बाद और बच्चा होने के बाद अजवाइन के लड्डू भी बना कर दिए जाते हैं। इसके अलावा महिला को प्रसव के बाद चपाती में भी अजवाइन डालकर दी जाती है। यहाँ हम आपको यह बताएंगे कि प्रसव के बाद महिला को अजवाइन का पानी क्यों दिया जाता है और इससे क्या-क्या फायदे (Benefits of Ajwain Water after Delivery) होते हैं।

अजवाइन का प्रयोग (Uses of Ajwain in Hindi)

अजवाइन (Ajwain) का प्रयोग घरों में ना केवल मसालों के रूप में किया जाता है बल्कि छोटी मोटी पेट की बीमारियां भी इसका सेवन करने से दूर हो जाती है। खाना खाने के बाद उसे हजम करने के लिए अजवाइन में थोड़ा सा नमक मिलाकर या फिर अजवाइन का चूर्ण बना कर लिया जाता है। अजवायन को औषधीय गुणों से भरपूर माना जाता है। यह ना सिर्फ खाने को स्वाद देती हैं बल्कि इससे पेट से जुड़ी कई बीमारियां दूर होती है। यह पाचन क्रिया से संबंधित सभी रोगों में फायदेमंद होती है। आयुर्वेद में इसे 100 प्रकार के अन्न पचाने वाली औषधि माना जाता है। इसे भारत में ज्यादातर सभी महिलाएं सब्जी बनाने और कई अन्य व्यंजन बनाने में इस्तेमाल करती है। अजवाइन वजन घटाकर मोटापा कम (Motapa Kam Karne) करने में भी काफी सहायक होती हैं। अजवाइन का पानी (Ajwain ka Pani) सुबह खाली पेट पीने से मोटापा प्राकृतिक रूप से कम हो जाता है। दूसरी और अजवाइन का पानी (Ajwain ka Pani) पीने से शरीर का मेटाबॉलिज्म भी बढ़ता है जिसकी वजह से कार्ब और फैट बर्न होने की प्रक्रिया शुरू होती है।
इसे भी पढ़ेंः डिलीवरी के बाद पेट की चर्बी घटाने के 10 उपाय

प्रसव के बाद महिला को अजवाइन का पानी देने के फायदे (Benefits of Ajwain Water after Delivery in Hindi)

अजवाइन का पानी डिलीवरी के बाद महिलाओं की कई समस्याओं को हल करता है जैसे कि वजन कम करना, पाचन शक्ति सही रखना, प्रसव का दर्द दूर करना, महिलाओं के स्तन में दूध की बढ़ोतरी करना इत्यादि। तो आइए जानते हैं अजवाइन के विभिन्न फायदो के बारे में जो इस प्रकार हैं। #1. गैस्टिक समस्या को दूर करने में (Protect from Gastric problems) शिशु के जन्म के बाद महिलाएं कई समस्याओं से जूझती है परंतु कई दादी नानी के नुस्खे इस समय काम आते हैं जैसे अजवाइन, सौंफ व लौंग इत्यादि। प्रेगनेंसी के एकदम पास कई महिलाओं को कई बार गैस्टिक की समस्या हो जाती है परंतु आप घबराएं नहीं क्योंकि अजवायन पेट के दर्द का एक बेहतरीन इलाज है। रोजाना इसका सेवन करने से आपको पेट दर्द से राहत मिलेगी। अजवाइन का पानी पीने से आपको गैस की समस्या भी नहीं होगी। इसका पानी सिर्फ आपकी पाचन क्रिया ही नहीं बल्कि आपके शिशु की पाचन क्रिया को भी स्वस्थ रखता है। यह इलाज गैस की समस्या का एक कारगर इलाज है और इसके साथ ही साथ डायरिया और कब्ज की समस्या से भी छुटकारा दिलाता है। अजवाइन के पानी का सेवन करने से विषैले पदार्थ शरीर से बाहर निकलते हैं जो आपके लिए बहुत जरूरी है। #2. रक्त संचार में सुधार लाना (For better blood circulation) अजवाइन के पानी का सेवन करने से रक्त का संचार सुचारू रूप से होता है। इससे शरीर में रक्त का संचार समान रूप से रहता है जिससे मांसपेशियों के विकास में मदद मिलती है। अगर मांसपेशियों में कोई चोट लगी है तो वह भी ठीक होती है। इसका सेवन करने से आपको बिल्डिंग के दौरान ज्यादा दर्द और पानी भी नहीं होता है। इसे भी पढ़ेंः प्रसव के बाद तनाव से बचने के 5 तरीके #3. मां का दूध बढ़ाने में सहायक (Increases breast milk) अजवाइन का पानी मां और शिशु दोनों के लिए बहुत फायदेमंद होता है। यह स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है क्योंकि इसका सेवन करने से महिला के स्तनों में दूध की बढ़ोतरी होती है। अजवाइन में स्तन से दूध उत्पाद करने वाले गुण पाए जाते हैं। #4. वजन घटाने में सहायक (Ajwain Water For Weight Loss) प्रसव के बाद वजन घटाने के लिए अजवाइन का पानी आम तौर पर एक स्वस्थ और सबसे अच्छा विकल्प माना जाता है। एक स्वस्थ आहार व्यायाम के संयोजन से अजवाइन का पानी पीने से वजन घटता है जिससे गर्भावस्था के दौरान जमा फैट को कम करने में मदद मिलती है। इसके सेवन से आपका गर्भाशय फिर से पहले वाली स्थिति में आने लगता है। यह आपके गर्भाशय की पेशियों को मजबूत करता है जो शिशु जन्म के दौरान अति आवश्यक है। अजवाइन का पानी आपका वजन घटाकर आपको मोटापे से भी बचाता है। #5. दर्द को कम करने में (Decreases pain) अजवाइन में एनएसथेटिक गुण पाए जाते हैं जो शरीर के दर्द को कम करने में मदद करते हैं। यह गर्भावस्था के बाद महिलाओं में होने वाले कमर दर्द और जोड़ों के दर्द को कम करने में मदद करता है। प्रसव के बाद अजवाइन का पानी लेने से आपको जल्दी स्वस्थ होने में बहुत मदद मिलती है। पेट या इससे संबंधी कोई भी अन्य समस्या में अजवाइन का पानी (Ajwain Water) एक बेहतर इलाज है। कई बार शिशु के पेट में होने वाले दर्द से निपटने के लिए अजवाइन का पानी पीने की सलाह दी जाती हैं। यह कमर दर्द, जोड़ों के दर्द के साथ साथ पेट दर्द को भी पूरी तरह से ठीक कर देता है। इसलिए प्रसव के बाद अजवाइन का पानी लेना बिल्कुल ना भूले परंतु कई बार ज्यादा अजवाइन से शिशु को कुछ दिक्कत हो सकती है। इसलिए इसकी मात्रा को ज्यादा ना बढ़ाए।

अजवाइन का पानी कैसे पियें (Ajwain Ka Pani Kaise Piye)

अजवाइन का पानी (Ajwain Water) बनाने के लिए एक चम्मच अजवायन को एक गिलास पानी में रात को भिगोकर छोड़ दे। सुबह के समय उस पानी को उबालकर ठंडा कर लें। अब दिन में इस पानी का सेवन करें। यह आपके पेट दर्द आदि कई समस्याओं में बहुत फायदेमंद होता हैं। यह सामान्य प्रसव के बाद महिला को सामान्य बनाने में सहायता करता है और पेट को अच्छी तरह से साफ कर देता है। इसमें पर्याप्त मात्रा में एक्सीडेंट होने के कारण यह गर्भवती महिलाओं के लिए प्रसव के बाद एक माह के लिए बहुत ही उपयोगी पदार्थ है। इसे भी पढ़ेंः प्रेगनेंसी के दौरान यह किताबें अवश्य पढ़े क्या आप एक माँ के रूप में अन्य माताओं से शब्दों या तस्वीरों के माध्यम से अपने अनुभव बांटना चाहती हैं? अगर हाँ, तो माताओं के संयुक्त संगठन का हिस्सा बने। यहाँ क्लिक करें और हम आपसे संपर्क करेंगे।

null

null